बेंगलुरु, 24 अप्रैल. शानदार फॉर्म में चल रही रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर और गत चैम्पियन चेन्नई सुपर किंग्स के बीच आज होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग के मुकाबले में दर्शकों को मनोरंजन की जबर्दस्त सौगात मिलने की गैरंटी रहेगी.

टूर्नामेंट में धीमी शुरूआत के बाद चेन्नई और बेंगलोर ने लय पकड़ ली है. चेन्नई ने पिछले दो मैचों में पुणे वॉरियर्स इंडिया और राजस्थान रॉयल्स को हराया. एम चिन्नास्वामी स्टेडियम पर होने वाला आज का मैच इसलिए भी खास है क्योंकि मेजबान टीम की नजरें चेन्नई से पिछली हार का बदला चुकाने पर लगी होगी. चेन्नई ने अपने मैदान पर हुए उस मुकाबले में बेंगलोर को आखिरी ओवर में हराया था. चेन्नई और रॉयल्स से हारने के बाद बेंगलोर टीम ने लगातार तीन मैच जीते और इस लय को कायम रखना चाहेगी. रॉयल्स को उन्होंने उसी के मैदान पर हराया जिसमें क्रिस गेल (चार) और विराट कोहली (16) का अधिक योगदार नहीं था.

बेंगलोर के लिए राहत की बात तिलकरत्ने दिलशान और एबी डिविलियर्स का फॉर्म में लौटना रही. दिलशान ने नाबाद 76 रन बनाए जबकि डिविलियर्स ने 23 गेंद में नाबाद 59 रन जोड़े. दोनों ने चौथे विकेट की अटूट साझेदारी में 122 रन बनाए. डेनियल विटोरी की टीम के लिए चिंता की बात कोहली का खराब फॉर्म है. कोहली ने अभी तक सात मैचों में सिर्फ 129 रन बनाए हैं. तीसरे नंबर पर लगातार नाकाम रहने के बाद विटोरी ने कल उन्हें दिलशान के साथ पारी की शुरूआत करने भेजा. इस प्रयोग का हालांकि कोई फायदा नहीं हुआ क्योंकि कोहली नाकाम रहे और गेल चौथे नंबर पर कोई कमाल नहीं दिखा सके.

अभी तक बेंगलोर की जीत में उसके विदेशी खिलाडिय़ों का ही योगदान रहा है. अब मयंक अग्रवाल, मोहम्मद कैफ और सौरभ तिवारी जैसे भारतीय खिलाडिय़ों से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है. गेंदबाजी में के.पी. अपन्ना ने राजस्थान के खिलाफ चार विकेट लेकर विटोरी को एक और विकल्प दे दिया है. स्पिन गेंदबाजी में अब विटोरी और मुथैया मुरलीधरन के अलावा उनके पास अपन्ना जैसा होनहार खिलाड़ी भी है. दूसरी ओर चेन्नई चार मैचों में जीत और तीन हार के साथ पांचवें स्थान पर है. वैसे आईपीएल में महेंद्र सिंह धोनी की टीम का पिछले साल भी यही हाल था और आखिरी नौ में से सात लीग मैच जीतकर वे प्लेऑफ में पहुंचे थे. दक्षिण अफ्रीकी सलामी बल्लेबाज फाफ डु प्लेसि और हरफनमौला एल्बी मोर्कल अभी तक चेन्नई की कामयाबी की कुंजी रहे हैं और कप्तान धोनी ने भी फिनिशर की भूमिका बखूबी निभाई है. सुरेश रैना का खराब फॉर्म हालांकि चिंता का सबब है.

Related Posts: