कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष भूरिया ने लगाया सरकार पर आरोप

भोपाल 5 सितम्बर . प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कांतिलाल भूरिया ने आज जारी एक बयान में प्रदेश की भाजपा सरकार पर सीधा आरोप लगाया है कि वह 60 वर्ष पूर्व पाकिस्तान से विस्थापित होकर भोपाल के बैरागढ़ उप नगर में बसे करीब 400 सिन्धी परिवारों को एक बार फिर बेदखली की त्रासदी में फंसाने का षड्यंत्र रच रही है, जबकि ये परिवार तत्कालीन प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू के निर्देश पर विधिवत यहां बसाये गए थे. वर्तमान में ये परिवार जिस भूमि पर मकान बनाकर रह रहे हैं-वह भूमि कानूनन उनकी है.

भूरिया ने कहा कि कथित मर्जर एग्रीमेंट के तहत इन संपत्तियों के नियमितीकरण का बखेड़ा राज्य सरकार ने अपने किसी गुप्त एजेंण्डे के तहत खड़ा किया है. कांग्रेस नियमितीकरण की आड़ में इन संपत्तियों का सरकारीकरण किसी कीमत पर नहीं होने देगी.  आपने संबंधित परिवारों को आष्वस्त किया है कि वे भाजपा सरकार के मर्जर एग्रीमेंट के भूत से जरा भी भयभीत न हों. अब कांग्रेस उनकी इस लड़ाई को खुद लड़ेगी और उनको दुबारा विस्थापन की त्रासदी भोगने की नौबत नहीं आने देगी.

भूरिया 8 सितम्बर को ग्वालियर में

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कांतिलाल भूरिया 7 सितम्बर, बुधवार को रात 8.15 बजे इंदौर-ग्वालियर इंटरसिटी से ग्वालियर के लिए प्रस्थान करेंगे. वे अगले दिन    8 सितम्बर, गुरूवार को सुबह 8.15 बजे ग्वालियर पहुंचेंगे. वे ग्वालियर में अपरान्ह दो कांग्रेस नेताओं के निवास पर शोक संवेदना प्रगट करने हेतु जाएंगे. तत्पश्चात् शाम 4.15 बजे ईद मिलन समारोह में शिरकत करेंगे और 5.15 बजे ब्राम्हण समाज की बैठक में शामिल होंगे. भूरिया हजीरा चौक पर शाम 6.30 बजे जिला कांग्रेस कमेटी द्वारा आयोजित जनसभा को संबोधित करेंगे. तत्पश्चात्  रात 10.10 बजे ए.पी. एक्सप्रेस से ग्वालियर से भोपाल के लिए प्रस्थान करेंगे. आप अगले दिन 9 सितम्बर, शुक्रवार को मध्यरात्रि 3.25 बजे भोपाल पहुंचेंगे.

मर्जर को लेकर कांग्रेसियों ने किया जंगी प्रदर्शन
संत हिरदाराम नगर मर्जर मामले को लेकर कांग्रेसी नेताओं ने सोमवार को चंचल चौराहे पर जंगी प्रदर्शन किया. इस अवसर पर कांग्रेसी नेता व पूर्व विधायक पी.सी. शर्मा सहित बड़ी संख्या में कांग्रेसी नेता मौजूद थे. पी.सी. शर्मा ने उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि यह सब मुख्यमंत्री के इशारों पर किया जा रहा है, हम उनके इरादों को बेनकाब करेंगे. उन्होंने कहा कि 60 वर्षों से सरकार क्या कर है. अपनी जमीन की याद आई. उन्होंने कहा कि सिन्धी विस्थापितों को भूमि दी गई थी. कार्यक्रम को कांग्रेस के अन्य नेताओं ने भी संबोधित किया. जिसमें नरेश ज्ञानचंदानी, नारीमल नरयानी, त्रिलोक दीपानी, प्रकाश आसूदानी, मनोहर सिंह ठाकुर, नरेश शाह शामिल थे. प्रदर्शन में मुख्य रूप से सोनू तोमर, अनिल टेकचंदानी, अशोक मारन, घनश्याम लालवानी, मनोहर वीधानी, राम टेकवानी, रामचंद मूलचंदानी, रमेश राजानी, राम पारदासानी, मोनू सक्सेना मौजूद थे.

वोट की राजनीति कर रहे हैं कांग्रेसी- वासवानी
कांग्रेसियों द्वारा मर्जर एग्रीमेंट पर जंगी प्रदर्शन व जिला प्रशासन की कार्यवाही को गलत बताने वाले कांग्रेसी वोट की राजनीति करने में लगे है. यह आरोप आवास संघ के अध्यक्ष सुशील वासवानी ने लगाते हुए कहा कि अगर कांग्रेसी नेता  क्षेत्र के विकास में अपना योगदान दे तो अच्छा है.

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा नवयुवक सभा में आयोजित मुख्यमंत्री दरबार में जिस तरह उन्होंने मर्जर एग्रीमेंट को नियमितीकरण करने की घोषणा की है जिससे बैरागढ़ वासियों को काफी राहत मिली है जिस पर जिला प्रशासन ने कार्यवाही भी शुरू कर दी है. लेकिन जिस तरह बैरागढ़ के कांग्रेसी नेता मर्जर को उछालने में लगे है इससे उनके इरादे पूरे नहीं होने दिए जाएंगे. उन्होंने मुख्यमंत्री की घोषणा का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि इसमें बैरागढ़ की जनता जिला प्रशासन को सहयोग करें.

Related Posts: