मुख्यमंत्री ने की वीडियो कान्फ्रेंसिंग

भोपाल, 2 मई, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में गेहूँ उपार्जन के अंतर्गत किसानों का एक-एक दाना गेहूँ खरीदा जायेगा. किसी भी दुष्प्रचार से विचलित हुए बगैर धैर्य बनाये रखें. उन्होंने कहा कि किसान बिचौलियों से बचें. जो किसान पंजीयन से रह गये थे आज से लेकर तीन मई तक पंजीयन कर उनका भी गेहूँ खरीदा जायेगा. मुख्यमंत्री आज यहाँ वीडियो कान्फ्रेंसिग के जरिये प्रदेश के कलेक्टर और कमिश्नर को संबोधित कर रहे थे. इस दौरान मुख्य सचिव श्री आर. परशुराम भी मौजूद थे.

चौहान ने कहा कि समर्थन मूल्य पर गेहूँ की खरीदी एक बड़ी चुनौती है. बारदानों की आपूर्ति में पिछले दिनों व्यवधान आया था पर अब बारदानों की कमी की पूर्ति कर ली गयी है. किसानों के मन में कोई संशय नहीं रहे. उन्हें यह पता रहे कि गेहूँ हर हाल में खरीदा जायेगा. उन्होंने निर्देश दिये कि कोई किसान पंजीयन से वंचित नहीं रहे. बारदानों के भंडारण का युक्तियुक्तकरण किया जाये, जहाँ खरीदी कम है वहाँ से अन्य केन्द्रों पर बारदाने भेजे जाये.

मुख्य सचिव ने की कमिश्नरों से गेहूँ खरीदी पर चर्चा-मुख्य सचिव परशुराम ने गेहूँ खरीदी के महा अभियान में उत्कृष्ट कार्य करने वाले संभागों के अधिकारियों को बधाई दी . मुख्य सचिव ने विशेष रूप से नर्मदापुरम् संभाग के होशंगाबाद और हरदा जिलों में गेहूँ उपार्जन से जुड़े सभी कार्यो की अलग-अलग जानकारी प्राप्त की. उन्होंने इंदौर, भोपाल, उज्जैन, सागर, रीवा, जबलपुर, ग्वालियर, चम्बल और शहडोल सभी संभाग के कमिश्नरों से बातचीत की. मुख्य सचिव ने कमिश्नरों से कहा कि वे राजधानी से संभागों और जिलों तक निरंतर संवाद बनाए रखेंगे और गेहूँ खरीदी के साथ ही अन्य क्षेत्रों मे श्रेष्ठ कार्य के संकल्प को पूरा करेंगे. मुख्य सचिव ने कहा कि राज्य की प्राथमिकताओं के अनुसार मुख्यालय और मैदानी दोनों स्तरों पर अच्छे परिणाम लाने के लिए निरंतर कार्य करना है.

Related Posts: