• विवाह कार्यक्रम  शुरू

भोपाल, 6 नवंबर, नभासं. देव उठनी ग्यारस की पूजा रविवार को घर-घर के अलावा कई धार्मिक स्थलों पर की गई. इस पूजा करने के समय लोगों द्वारा गन्ने का मंडप सजाया गया और इसके बीच तुलसी रखकर रौली, ङ्क्षसदुर, अक्षत, मूंगफली, आंवला, सिंघाड़ा, भाजी और बैर, अन्य मौसमी फल अर्पण करने के साथ आरती उतार कर की.

देव उठनी ग्यारस पर्व के समय इस दिन भगवान विष्णु चार माह का विश्राम कर उठते हैं. ऐसा सदियों से माना जाता है. इसके अतिरिक्त एकादशी के दिन शुभ विवाह का कार्यक्रम भी शुरू हो जाते हैं. विशेषकर लोगों की शादी के मुहूर्त पंचांगगत नहीं निकल पाते हैं. ऐसे लोगों को देव उठनी ग्यारस के दिन शादी करना शुभ मना जाता है. इस पूजा से पूर्व लोगों द्वारा घर के आंगन, मुख्य द्वार तथा तुलसी के आसपास गोबर से लिपाई की जाती है. वहीं दूसरी ओर घर को सौन्दर्य पूर्ण बनाने के रंग-बिरंगी लाइटें भी लगाई जाती हैं. साथ ही रंगोली भी सजार्ई जाती है.

शहर के मंदिर को तथा कुछ धार्मिक स्थलों के सजाने हेतु तरह-तरह की रंग-बिरंगी लाइटें लगाई गई हैं. साथ ही कुछ जगहों पर धार्मिक गीतों की सीडी द्वारा मन को छू लेने वाले गीत भी गूंजते हुये सुनाई दिये. 11 पंडितों के द्वारा तुलसी विवाह संपन्न-देवउठनी एकादशी पर कर्मश्री संस्था ने रविंद्र भवन के मुक्ताकाश मंच पर विवाहित जोड़ों के साथ तुलसी शालिगराम विवाह विधि विधान के साथ संपन्न कर नि:शुल्क तुलसी पौध वितरण किया. संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम में पंडित विष्णु राजोरिया एवं 11 ब्राम्हणों द्वारा मंत्रोच्चार के साथ तुलसी शालिगराम विवाह संपन्न कराया जिसमें लगभग 101 ब्राम्हणों द्वारा मंत्रोच्चार के साथ तुलसी शालिगराम विवाह संपन्न कराया जिसमें लगभग 101 विवाहित जोड़े उपस्थित थे.

इसके पश्चात संस्था द्वारा नि:शुल्क 5000 पौधों का वितरण किया गया. संस्था का उद्ïदेश्य तुलसी के धार्मिक पर्यावरण एवं स्वास्थ्य के महत्व को घर-घर पहुँचाना है.  मान्यता है कि चार माह विश्राम करने के बाद भगवान विष्णु क्षीरसागर से जायेंगे. उनके शरन काल में किसी प्रकार का कोई मांगलिक कार्य नहीं किया जाता था. देवउठनी ग्यारस पर भगवान को उठाने के लिये पूजा आराधना की जाती है.

तुलसी विवाह का कार्यक्रम संपन्न-मनुआभान टेकरी स्थित मोहनानंद महाराज दण्डीस्वामी के आश्रम में बजरंग दल के प्रखण्ड संयोजक मुकेश मालवीय के नेतृत्व में तुलसी विवाह का कार्यक्रम सम्पन्न हुआ. इस अवसर पर प्रांतीय मंत्री राजेश तिवारी संगठन मंत्री देवी सिंह विभाग संयोजक कमलेश ठाकुर, जिला मंत्री राजेश साहू, राजू मालवीय जी, मट्ïटू भैया, मनमोहन शर्मा, राजेश पटवा, भारत सहित कई कार्यकर्ता एवं क्षेत्रीय नागरिक उपस्थित थे.

Related Posts: