लीग मुकाबले

चेन्नई,25 मई. आईपीएल-पांच के खिताबी जंग में पहुंचने के लिए दूसरी टीम के लिए आज रात आठ बजे बजे गत चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स और दिल्ली डेयरडेविल्स के बीच मुकाबला खेला जाना है. चेन्नई की कमान महेंद्र सिंह धौनी और दिल्ली की कमान वीरेंद्र सहवाग के हाथों में है और दोनों के बीच रिश्ते मधुर नहीं है. ऐसे में फाइनल से पूर्व दोनों के बीच मुकाबला रोमांचक होने की संभावना है.

दोनों टीमें टूर्नामेंट के लीग चरण में दो-दो बार आपस में भिड़ चुकी है और मुकाबला 1-1 से बराबरी पर रहा था. भारतीय टीम के दोनों दिग्गज खिलाडिय़ों के बीच इस समय रिश्ते सामान्य नहीं है. दोनों के रिश्तों में खटास आस्ट्रेलिया दौरे के दौरान काफी बढ़ गई. भारतीय टीम इंग्लैंड के बाद आस्ट्रेलिया के हाथों टेस्ट सीरीज में बुरी तरह से हारने के बाद सहवाग ने धौनी की रोटेशन रणनीति की जमकर आलोचना की. बाद में धौनी ने सहवाग पर पलटवार भी किया. विवादों के चलते सहवाग को एशिया कप में भी शामिल नहीं किया गया और उनके स्थान पर विराट कोहली को भारतीय टीम का उपकप्तान बना दिया गया. दोनों के बीच तल्ख रिश्तों की छाप आईपीएल के उस पहले भिड़ंत में दिखाई दी जब दोनों टीमें पहली बार आमने-सामने थी. टास के लिए दोनों कप्तान (धौनी और सहवाग) मैदान पर गए लेकिन दोनों ने एक-दूसरे की तरफ नहीं देखा और पीठ किए रहे. साथ ही टास होने के बाद दोनों ने जब हाथ मिलाए तब भी वह गर्मजोशी नहीं दिखाई दी. इसके बाद पिछले साल विश्व कप से पूर्व भी दोनों में मनमुटाव हुआ था.

10 अप्रैल को दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर मेजबान टीम ने धौनी की टीम को बुरी तरह से रौंदते हुए आठ विकेट से हरा दिया था. इस मैच में चेन्नई 20 ओवर में महज 110 रन ही बना सका जिसके जवाब में दिल्ली ने 14वें ओवर में ही मैच अपने नाम कर लिया. धौनी ने इस मैच में जहां 11 रन बनाए वहीं सहवाग ने टीम को विस्फोटक शुरुआत देते हुए 26 गेंदों में 33 रन ठोक दिया. इसके बाद 12 मई को चेन्नई के चेपक मैदान पर दोनों टीमों का सामना हुआ और इस बार बाजी चेन्नई के हाथ लगी और 28 गेंद शेष रहते नौ विकेट से मैच जीत लिया. इस मैच में दिल्ली के बल्लेबाज बड़ा स्कोर खड़ा कर पाने में नाकाम रहे और धौनी की टीम से हार का सामना करना पड़ा.

सील किए तीनों स्टैंड खुलेंगे

तमिलनाडु क्रिकेट संघ ने उस समय राहत की सांस ली, जब मद्रास उच्च न्यायालय ने कल एमए चिदंबरम स्टेडियम के जी, एच और आई स्टैंडों को दर्शकों के लिए खोलने का निर्देश पारित किया. न्यायालय के निर्देश के बाद अब इन स्टैंडों में 12,500 दर्शक इंडियन प्रीमियर लीग के फाइनल सहित दो मैच देख सकेंगे. इन स्टैंडों को विकास संबंधी नियमों के उल्लंघन को लेकर बीते साल अगस्त में सील कर दिया गया था.

इन खाली स्टैंडों से टीएनसीए और आईपीएल को काफी नुकसान हो रहा था और इसी कारण आईपीएल आयोजन समिति फाइनल मुकाबले को कहीं और कराने पर विचार कर रही थी. टीएनसीए ने अपने बयान में कहा, जी, एच और आई स्टैंड अब दर्शकों के लिए खोल दिए गए हैं. इन स्टैंडों के लिए टिकटों की कीमत 500 से 750 रुपये के बीच रखी गई है. स्टैंड शुक्रवार को क्वालीफायर-दो के लिए खोल दिए जाएंगे. टीएनसीए के मुताबिक इन दो मैचों के लिए टिकटों की बिक्री शुक्रवार सुबह शुरू होगी. क्वालीफायर-दो में आज चेन्नई सुपर किंग्स का सामना दिल्ली डेयरडेविल्स से होना है.

Related Posts:

राहुल द्रविड़ टेस्ट रैंकिंग में टाप टेन में
भारतीय निवेश से अमेरिका में हजारों को रोजगार
रबी में किसानों को विद्युत प्रदाय में लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी
खालिद, अनिर्बान ने किया सरेंडर
महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर कृतज्ञ राष्ट्र ने नमन किया
मजीठिया वेतन बोर्ड की सिफारिशों का करना होगा पालन : उच्चतम न्यायालय