अमेठी,  3 फरवरी. कांग्रेस के गढ़ अमेठी और रायबरेली में चुनाव प्रचार के लिए शुक्रवार को यहां पहुंची प्रियंका वाड्रा ने गैर कांग्रेसी दलों पर जाति एवं धर्म के नाम पर जनता को गुमराह कर प्रदेश को विकास की दौर में पीछे धकेलने का आरोप लगाया. प्रदेश में बदलाव लाने के लिए उन्होंने कांग्रेस प्रत्याशियों को जिताने की अपील की.

पांच दिवसीय दौरे पर यहां पहुंची प्रियंका ने गौरीगंज कस्बे में जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि राज्य में सिर्फ मौकापरस्ती की राजनीति रह गई है. उन्होंने कहा, पिछले 22 वर्ष से आपने बर्दाश्त किया. कोई जाति के नाम पर तो कोई धर्म के नाम पर आपको गुमराह कर रहा. विकास कहां हुआ है इस क्षेत्र का. यह पिछले 22 साल से राज्य में कांग्रेस के सत्ता से दूर होने के कारण हुआ है. प्रियंका ने अपने भाई राहुल गांधी के बारे बताते हुए कहा कि, जब मैंने उनसे पूछा कि विधान सभा चुनाव के लिए इतनी क्यों मेहनत कर रहे हैं. पता नहीं क्या नतीजा आएगा. तब उन्होंने कहा कि यूपी में नतीजे से मतलब नहीं है. यूपी पिछड़ा है. वहां बदलाव लाना है. इसलिए मेहनत कर रहे हैं. बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष व प्रदेश की मुख्यमंत्री मायावती और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव सहित गैर कांग्रेसी दलों के अन्य नेताओं पर पिछले 22 साल में उत्तर प्रदेश का विकास नहीं करने का आरोप लगया. प्रियंका ने कहा,महाराष्ट्र जाइए. आंध्र प्रदेश जाइए. देखिए विकास होने के क्या मतलब क्या हैं? उत्तर प्रदेश के नौजवान नौकरी करने के लिए उन राज्यों में जाने को मजबूर हैं, क्योंकि राज्य की गैर-कांग्रेसी सरकारें जनता को भूल गई हैं.

अमेठी के लोगों को सम्बोधित करते हुए प्रियंका ने कहा, मुझे आपसे सिर्फ इतना कहना है कि प्रदेश की हालत को सुधारनी है तो कांग्रेस पर भरोसा कीजिए. यहां के सांसद यानी आपके बेटे राहुल गांधी की क्या सोच है? इसे आप सभी भली-भांति जानते हैं. वह अमेठी की ही तरह पूरे प्रदेश की तरक्की चाहते हैं.” अमेठी-रायबरेली के पांच दिवसीय दौरे में प्रियंका दोनों जिलों के सभी 10 विधानसभा क्षेत्रों में जनसभाएं और नुक्कड़सभाएं करेंगी.

Related Posts: