भेल कर्मचारियों और ठेका श्रमिकों को न्याय दिलाना है हेस्टू का मुख्य ध्येय

भोपाल, 23 अप्रैल, नभासं. भेल कारखाने के गेट नं. पांच पर हिन्द मजदूर सभा हेस्टू द्वारा विजय दिवस धूमधाम से मनाया गया. इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एचएमएस यूनियन के राष्ट्रीय सचिव आर ए मित्तल एवं विधायक विश्वास सारंग थे. इसके अलावा भेल के सभी ईकाई के फेडरेशन के पदाधिकारी अतिथि थे. कार्यक्रम की अध्यक्षता यूनियन के अध्यक्ष बाबूगंगासागर ने की.

इस कार्यक्रम को मुख्य अतिथि आर ए मित्तल ने संबोधित करते हुए कहा कि यूनियन को प्रजातंात्रिक पद्धति के तहत काम करनें का मौका मिले. इसलिये एचएमएस यूनियन विगत 32 वर्षो तक ज्वाइंट कमेटी का बहिष्कार करती रही. लेकिन जब 32 वर्षो बाद चुनाव हुए तो यूनियन में सर्वाधिक सीटें हासिल कर नम्बर वन ज्वाईंट कमेटी का खिताब हासिल कर लिया. इसके उपरांत यूनियन पिछली अव्यवस्थाओं में काफी हद तक सुधार कराया है. उन्होंने कहा कि अगर कोई गलती हमारे द्वारा की जाती है तो उसके बारे में नि:संकोच अवगत कराऐं. मित्तल ने कहा कि पे स्केल में तब्दीली कराई है. वहीं इंक्रीमेंट में 3 प्रतिशत बढ़ोत्तरी करनें हेतु प्रयास रत है.

उन्होंने जोर देते हुए आव्हान किया कि किसी भी कीमत पर मजदूरों को मिला अधिकार प्रबंधन द्वारा वापस नहीं लेने दिया जायेगा. वहीं ठेका श्रमिकों की ज्वलंत समस्याएं यूनियन ने सर्वप्रथम उठाई. साथ ही ठेक श्रमिकों को नियमित कर्मचारी की भांति वेतन दिलाने के प्रति प्रयास रत है. क्योंकि ठेका श्रमिक एक्ट में उल्लेख है कि ठेका श्रमिकों को स्थाई कर्मचारी की भांति वेतन सहित अन्य सुविधायें मुहैया कराई जायें. इसके अलावा भेल की सभी ईकाई में एक समान कानून देना चाहिये.

उन्होंने यूनियन के पदाधिकारियों का ध्यान आकर्षण फन्ड एकत्रित करनें के प्रति कराते हुए कहा कि इंटक यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजीव रेड्डी ने करीब 6 करोड़ का फिक्स डिपाजिट फन्ड रखा है. इसलिये अब यूनियन को भी फंड एकत्रित करने में ध्यान देना चाहिये. ताकि विपरीत परिस्थितियों में किसी के सामने हाथ न फैलाना पड़े. इस अवसर पर विधायक विश्वास सारंग ने कहा कि व्यक्ति के विचार दमदार होना चाहिये जो की उम्र के मोहताज नहीं होते है. उन्होंने सभी को बधाई देते हुए कहा कि जीत का दूसरा पहलू है कि जिम्मेदारी का बखूबी निर्वहन करना.

क्योंकि जिंदगी आग पर चलनें की कहानी है.

उन्होने कर्तव्य और अधिकार के अंतर पर प्रकाश डालते हुए कहा कि दोनों एक ही सिक्के के दो पहलू है. इसलिये कर्तव्यों को निर्वहन करनें पर अधिकार अपने आप ही मिल जाते है.
इसके पूर्व मुख्य अतिथि एवं अतिथियों का पुष्पगुच्छ से स्वागत किया गया. कार्यक्रम के अंत में मुख्य अतिथि सहित अतिथियों को एचएमएस यूनियन का स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मान किया गया. साथ ही आतिशबाजी फटाके फोड़ यूनियन के लोगों ने विजय दिवस पर खुशियां मनाई.

इस अवसर पर यूनियन के महामंत्री आमर सिंह राठौर वरिष्ठ सचिव जेपी आर्य कार्यवाहक अध्यक्ष व्ही एस कठैत उपध्यक्ष डीपी सिंह, जीतेन्द्र सिंह, डीके जाटव, प्रमोद पटैल, हेमंत सिंह, एस के रिछारिया, ललित चौहान, एस सेंथिल, पीसी दीक्षित, शंकर राव, सुभाष वर्मा और आर बी शर्मा इत्यादि उपस्थित थे.

Related Posts: