राष्ट्रपति की स्विट्जरलैंड यात्रा पर होगी चर्चा

जेनेवा, 1 अक्टूबर. राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल ने कहा है कि स्विट्जरलैंड से वार्ता के दौरान काले धन के मुद्दे पर बात आगे बढ़ सकती है. स्विट्जरलैंड की यात्रा पर पहुंचने के पश्चात मीडिया से बातचीत में राष्ट्रपति ने कहा कि मैं इस मुद्दे पर चर्चा करूंगी.

भारतीय राजनीति के गलियारों में इन दिनों काले धन की खूब चर्चा है.इस बारे में अगर बात आगे बढ़ती है तो विवादों में घिरी मनमोहन सरकार को कुछ राहत मिल सकती है. इससे पहले स्विट्जरलैंड और ऑस्ट्रिया के साथ एतिहासिक मैत्रीपूर्ण संबंधों का नया अध्याय रचने के लिए राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल शुक्रवार सायं जेनेवा पहुंचीं. अर्थव्यवस्था, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी क्षेत्र में दोनों देशों के साथ भारत के संबंध बेहतर रहे हैं. राष्ट्रपति के इस दौरे से इन संबंधों को और मजबूत बनाने में मदद मिलेगी. इससे पहले पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम 2005 में स्विट्जरलैंड के दौरे पर गए थे.

सन 2007 में स्विट्जरलैंड की राष्ट्रपति मिशेलीन काल्मी-रे भारत आई थीं. राष्ट्रपति पाटिल बर्न में इंडो-स्विस बिजनेस फोरम को चार अक्टूबर को और वियेना में भारत-ऑस्ट्रिया बिजनेस फोरम को छह अक्टूबर को संबोधित करेंगीं . राष्ट्रपति अपने दौरे में स्विट्जरलैंड में रहने वालों भारतीय मूल के लोगों को भी संबोधित करेंगी.

विदित हो कि वहां पर 15,500 भारतीय मूल के लोग रहते हैं.

Related Posts: