श्री भवन्स भारती स्कूल का वार्षिक उत्सव सम्पन्न

भारतीय परम्परा में शिक्षा सबसे बड़ा दान :  लक्ष्मीकांत शर्मा

भोपाल, 21 दिसंबर. राज्यपाल  राम नरेश यादव ने आज यहाँ भवन्स भारती पब्लिक स्कूल के वार्षिक समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि शिक्षा से जीवन का अंधकार दूर होता है.

उन्होंने कहा कि शिक्षा के साथ संस्कृति का ज्ञान होने से एक सर्वगुण सम्पन्न पीढ़ी का निर्माण होता है. राज्यपाल ने कहा कि प्रारम्भिक शिक्षा के पाठ्यक्रम में ऐसे विषयों का समावेश किया जाना चाहिए जिससे बच्चों को देश के गौरवपूर्ण अतीत के इतिहास और देश की विविधवर्णी और अनुपम संस्कृति का समुचित ज्ञान भी मिले. उन्होंने बच्चों से आग्रह किया कि वे महापुरूषों की जीवनी पढ़ें और माता-पिता, शिक्षकों तथा अपने बुजुर्गों का सम्मान करना कभी न भूलें. यादव ने कहा कि भविष्य तुम्हारा है और तुम्हारे ऊपर ही निर्भर है. इस अवसर पर उच्च शिक्षा एवं संस्कृति मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा ने कहा कि भारतीय परम्परा के संदर्भों में शिक्षा से बड़ा कोई दान नहीं है. उन्होंने कहा वही शिक्षा संस्था बड़ी और अच्छी होती है जो अच्छे वातावरण में उच्च गुणवत्ता की शिक्षा देने के साथ-साथ बच्चों को हमारी संस्कृति,संस्कार और परम्पराओं का भी बोध करवायें.

पूर्व में पारम्परिक रूप से दीप जलाकर और गणेश-वंदना के साथ उत्सव का शुभारम्भ हुआ. विद्यालय के सहायक संचालक ने स्वागत भाषण दिया और उप प्रधानाचार्य ने विद्यालय का प्रगति प्रतिवेदन प्रस्तुत किया. इस अवसर पर विद्यालय प्रशासन द्वारा राज्यपाल और उच्च शिक्षा मंत्री के नाम पर दस-दस हजार रूपये पुरस्कार राशि की दो ट्राफियाँ प्रतिवर्ष देने की घोषणा की गई. ये ट्राफियाँ छात्रों के उस हाऊस को दी जायेंगी जो सभी क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करेंगे. इस अवसर पर कक्षा एक से लेकर कक्षा 12 के विद्यार्थियों को उत्कृष्ट शैक्षणिक प्रदर्शन के लिए पुरस्कृत किया गया. इनमें अनन्य गोयल- पहली, राजेश्वर द्विवेदी-दूसरी, शोभित बनर्जी—तीसरी, अनुभव साहू-चौथी, अभय श्रीवास्तव-पाँचवीं, ओम साईकृति- छठवीं, मोहम्मद शाहिद-सातवीं, प्रचिता-नवीं, अनीस- दसवीं, शिवानी यादव- ग्यारहवीं और मरिया खान- बारहवीं कक्षा को पुरस्कृत किया गया. इसके अलावा बेस्ट बडिंग स्टूडेन्टस का अवार्ड जूनियर वर्ग में अनुराग को और सीनियर वर्ग में मैत्री सिंघई को दिया गया. अनुभव साहू को आल राऊन्डर जूनियर का, मोहम्मद शाहिद को आल राऊन्डर मिडिल का और श्रुति चौहान को आल राऊन्डर सीनियर का पुरस्कार दिया गया. रितिका असरानी को बेस्ट स्टूडेन्ट का अवार्ड दिया गया. इसी क्रम में शिवानी चक्रवर्ती को सर्वश्रेष्ठ शिक्षिका का अवार्ड दिया गया.

Related Posts: