नागपंचमी और सावन सोमवार का था संयोग

भोपाल,23 जुलाई,नभासं. श्रावण मास का तीसरा सोमवार और नागपंचमी होने के कारण आज राजधानी भोपाल के विभिन्न हिस्सों मे भगवान शिव की पूजा के लिए भक्तों की भारी भीड रही.

राजधानी के मनकामेश्वर मंदिर पिपलानी में पूजा अर्चना के लिए दिन भर लम्बी लाइन लगी रही.राजधानी के गुफा मंदिर,शीतलदास की बगिया,झरनेश्वर महादेव और अन्य शिव मंदिरों में बडी संख्या में लोगों ने पूजा की और बेलपत्र चढाये. नागपंचमी होने के कारण आज सोमवार का खास महत्व रहा. राजधानी के मंदिरों में दर्शन एवं जलाभिषेक के लिए कांवरियों की भी भीड दिखी. लोंगो का मानना है कि आज नागपंचमी के दिन विश्वनाथ मंदिर में जलाभिषेक से स्वार्थ सिद्धि होती है.

नागपंचमी, सावन सोमवार

रोटरी क्लब ईस्ट भोपाल द्वारा वनविभाग एवं पुलिस के सहयोग से सर्प बचाओ अभियान के अंतर्गत लगभग 150 सपेरों से 200 से अधिक नागसर्प को मुक्त कराया. जवाहर चौक टीटी नगर पुराना भोपाल, गोविंदपुरा क्षेत्र में रोटरी क्लब के चार दलों ने घूम-घूमकर सपेरों को पकड़ा. सभी जप्त सांपों को वनविहार सर्पपार्क में रखा गया है. इस अभियान में संयोजक विश्वास धुवे,डॉ. एएन सक्सेना, रवि तिवारी, पलास सुरजन, जीके छिब्बर, केजी बंसल एवं वनविभाग तथ पुलिस कर्मियों का विशेष सहयोग रहा.

बरसते मेघों ने भी किया शिव अभिषेक

बारिश होने के बाद ही कांवडजल से शिवाभिषेक करने का संकल्प लेकर होशंगाबाद से 3 दिन पूर्व निकलें कांवडियों के संकल्प का प्रकृति ने भी स्वागत किया. सोमवार सांय 7 बजे गुफा मंदिर मंदिर पहुंचकर जब कांवडियों ने कांवडजल से भगवान शिव का जलाभिषेक किया तो उस समय भी आसमान से मेघ बरस रहे थे, मानों मेघ भी शिव का अभिषेक कर रहे हों. गुफा मंदिर के महंत चंद्रमादास त्यागी के मार्गदर्षन में कर्मश्री अध्यक्ष रामेश्वर शर्मा, राकेश भदौरिया, राम बंसल सहित तीन हजार से अधिक कांवडियों द्वारा भगवान शिव का जलाभिषेक किया गया. उन्होने कांवडियों को याद दिलाया कि हमनें पंचउददेष्यों को लेकर इस बार की कांवडयात्रा निकाली थी. आप अपने-अपने स्थानों पर जाकर जल-बचाओ, पेड-बचाओ, गौवंष-बचाओ, युवाओं को संकल्पवान बनाओ, आध्यात्मिक चेतना जगाओं का संदेष सभी को देना. हमें सतत रूप से इन संकल्पों को पूरा करने के लिए लगे रहना चाहिए.

सर्पदंश चिकित्सा केन्द्र में पूजा

विगत 16 वर्षों से निरंतर प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी सर्पदंश चिकित्सा केन्द्र एवं रिसर्च सेन्टर पर नागपंचमी के पावन पर्व पर शिवपार्वती के प्रतीक नागजोड़े की पूजा-अर्चना 23 जुलाई को प्रात: 9 बजे आयोजित की गई. पूजन कार्यक्रम में गृहमंत्री उमाशंकर गुप्ता, महापौर कृष्णा गौर, नगर निगम अध्यक्ष कैलाश मिश्रा, नगर निगम आयुक्त रजनीश श्रीवास्तव उपस्थित हुए तथा नाग जोड़े को विधिवत पूजा अर्चना की. सर्पदंश चिकित्सा केन्द्र के संचालक सर्प विशेषज्ञ मो. सलीम द्वारा प्रतिवर्ष इसी प्रकार नागपंचमी के शुभ अवसर पर पूजा-अर्चना एवं विशाल भण्डारे का आयोजन विगत 16 वर्षों से किया जा रहा है. इसी क्रम को आगे बढ़ाते हुए इस वर्ष भी यह कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें भोपाल शहर एवं उसके आसपास के इलाकों से कई गणमान्य नागरिक उपस्थित हुए. तथा भण्डारे में से प्रसाद ग्रहण किया. सलीम ने आगे बताया कि इन पकड़े गए नाग जोड़े की विधिवत पूजा-अर्चना के बाद इनको मटकुली बुधनी के जंगलों में आजाद कर दिया जाएगा.

Related Posts: