• दस दिसंबर को होगा पूर्ण चंद्रग्रहण

इंदौर/उज्जैन, 29 नवंबर.नवप्र. पूर्ण चंद्रग्रहण के दौरान 10 दिसंबर को सूर्य, पृथ्वी और चंद्रमा की लुका-छिपी का रोमांचक नजारा भारत समेत दुनिया के अधिकांश भू-भागों में देखा जा सकेगा.

छह घंटे की खगोलीय घटना के दौरान चंद्रमा पूरी तरह पृथ्वी की ओट में छिप जाएगा.उज्जैन की जीवाजी वेधशाला के तकनीकी अधिकारी दीपक गुप्ता ने बताया कि पूर्ण चंद्रग्रहण की शुरुआत भारतीय समय के मुताबिक 10 दिसंबर को शाम पांच बजकर दो मिनट पर होगी और यह रात 11 बजकर दो मिनट पर खत्म हो जाएगा.  कोई दो सदी पुरानी वेधशाला के अधिकारी ने संस्थान की गणना के हवाले से बताया कि पूर्ण चंद्रग्रहण रात आठ बजकर दो मिनट पर अपने चरम स्तर पर पहुंचेगा, जब पृथ्वी की छाया से चंद्रमा पूरी तरह ढंक जाएगा. उन्होंने बताया कि पूर्ण चंद्रग्रहण का नजारा मध्य पूर्व एशिया, अफ्रीका, यूरोप, ऑस्ट्रेलिया, उत्तरी अमेरिका और ग्रीनलैंड में दिखाई देगा. यह इस साल का आखिरी ग्रहण होगा. पूर्ण चंद्रग्रहण तब होता है, जब सूर्य और चंद्रमा के बीच पृथ्वी आ जाती है. परिक्रमारत चंद्रमा इस स्थिति में पृथ्वी की ओट में पूरी तरह छिप जाता है और उस पर सूर्य की रोशनी नहीं पड़ती है.

Related Posts: