-: मुख्य सचिव द्वारा भोपाल-होशंगाबाद संभागों के कार्यों की समीक्षा में कलेक्टरों को निर्देश :-

भोपाल,15 सितंबरमुख्य सचिव अवनि वैश्य ने कहा है कि आम आदमी की बाधाएं दूर कर उन्हें बेहतर प्रशासन देने के लिए कलेक्टर सक्रिय और नेतृत्वकारी भूमिका निभाते हुए उदाहरण प्रस्तुत करें.

मुख्य सचिव आज यहां मंत्रालय सभाकक्ष में भोपाल और होशंगाबाद संभागों के 8 जिलों में संचालित विकास कार्यक्रमों की विस्तार से समीक्षा कर रहे थे. समीक्षा बैठक के दौरान प्रमुख रुप से गेहूं उपार्जन, सार्वजनिक वितरण प्रणाली, लोक सेवा ग्यारंटी अधिनियम के क्रियान्वयन, परिवार नियोजन, अटल बाल मिशन के तहत गतिविधियों के आयोजन और विभिन्न सेवाएं समय सीमा में उपलब्ध कराने के संबंध में विचार-विमर्श किया गया. इस अवसर पर अपर मुख्यसचिव खाद्य, नागरिक आपूर्ति उपभोक्ता संरक्षण, संस्कृति एवं संसदीय कार्य आभा अस्थाना , मुख्यमंत्री के सचिव दीपक खांडेकर, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य  डी.के. सामंतरे, प्रमुख सचिव लोक सेवा प्रबंधन और आवास पर्यावरण इकबाल सिंह बैंस, प्रमुख सचिव महिला बाल विकास  बी.आर. नायडू, प्रमुख सचिव लोक निर्माण के.के. सिंह, कमिश्नर भोपाल मनोज श्रीवास्तव, पुलिस महानिरीक्षक भोपाल रेंज  विजय यादव, पुलिस महानिरीक्षक होशंगाबाद रेंज विजय कटारिया, राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के संचालक मनोहर अगनानी, स्वास्थ्य सचिव सूरज डामोर सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी, संबंधित कलेक्टर उपस्थित थे.

वैश्य ने कहा कि प्रशासन की प्राथमिकता आम आदमी का कल्याण है इसके लिए विभिन्न सेवाओं को उत्कृष्ट ढंग से निर्धारित अवधि में पहुंचाने पर पूरा ध्यान देना चाहिए. सूचना प्रौद्योगिकी ने नागरिकों और सरकार के बीच की दूरी को कम करने में सहयोग दिया है. मुख्यसचिव ने विभिन्न क्षेत्रों में किए गए सफल नवाचारों की प्रशंसा करते हुए संबंधित कलेक्टरों को बधाई दी.

गेहूं उपार्जन एवं सार्वजनिक वितरण प्रणाली- मुख्यसचिव श्री वैश्य ने इस वर्ष सम्पन्न गेहूं उपार्जन कार्य के सफल संपादन के पश्चात आगामी वर्ष के लिए उपार्जन, भंडारण और किसानों को राशि के त्वरित भुगतान के लिए कलेक्टरों को अभी से तैयारी करने के निर्देश दिए. उन्होंने एसएमएस द्वारा किसानों को मंडी आने के उपयुक्त समय की सूचना देने के संबंध में इस वर्ष अपनाए गए हरदा मॉडल को अन्य जिलों में लागू करने के संबंध में जानकारी प्राप्त की. आयुक्त खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति श्री दीपाली रस्तोगी ने बताया कि विभाग द्वारा सूचना प्रौद्योगिकी के माध्यम से विभिन्न कार्यो को अंजाम दिया जाएगा. इसके लिए आवश्यक प्रक्रिया शुरु कर दी गई है. फूड कूपन योजना का क्रियान्वयन भी इससे आसान होगा. मुख्यसचिव श्री वैश्य ने सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत उपभोक्ताओं को उपभोक्ता सामग्री देने की सूचना एसएमएस द्वारा देने के सबंध में हो रहे कार्य की प्रगति की भी जानकारी प्राप्त की.

लोक सेवा प्रबंधन- समीक्षा बैठक में बताया गया कि इस महीने की 25 तारीख को पं. दीनदयाल उपाध्याय के जन्म दिवस के अवसर पर लोक सेवा दिवस का आयोजन हो रहा है. लोक सेवा ग्यारंटी अधिनियम लागू होने के एक साल के बाद लगभग साठ लाख आवेदन पत्रों का निराकरण हो गया है. नागरिकों को अधिनियम के अंतर्गत अब शीघ्र ही 25 नई सेवाएं उपलब्ध होने लगेंगी. मुख्यसचिव ने आवेदक को आवेदन पत्र की रसीद देना सुनिश्चित करने और सेवा प्रदाय न करने वाले अधिकारी को दंडित करने के संबंध में कलेक्टरों को कार्यवाही करने के निर्देश दिए.

अटल बाल मिशन- मुख्य सचिव ने विभिन्न जिलों में बच्चों को कुपोषण से बचाने के लिए बनाए जा रहे एक्शन प्लान की जानकारी प्राप्त की. उन्होंने जन अभियान परिषद, मीडिया और सामाजिक कार्यकर्ताओं के सहयोग से कुपोषण की समाप्ति के लिए कार्यो के संचालन के निर्देश दिए. मुख्यसचिव ने ग्राम और विकासखण्ड स्तर पर आंगनवाड़ी और स्वास्थ्य कार्यकताओं की भागीदारी से इस क्षेत्र में अच्छे नतीजे लाने की जरुरत बताई.
सड़कों की मरम्मत और पुनर्निर्माण- बैठक के दौरान इस वर्ष अधिक वर्षा से क्षतिग्रस्त हुई सड़कों की आवश्यक मरम्मत और उनके पुनर्निर्माण के संबंध में जिलावार चर्चा की गई.

Related Posts: