डीपी लगाने के लिए मांगी थी राशि

ब्यावरा / सुठालिया 28 मई,सं.  सुठालिया क्षेत्र में विद्युत वितरण कम्पनी मध्य क्षेत्र में पदस्थ कनिष्ठ यंत्री को एक ग्रामीण उपभोक्ता से डीपी लगवाने हेतु स्टीमेट तैयार करने के एवज में लोकायुक्त टीम ने 1800 रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथो धर दबोचा.

जानकारी के अनुसार ग्राम सेमली निवासी दयाराम वर्मा से सुठालिया क्षेत्र स्थित विद्युत वितरण कम्पनी में पदस्थ कनिष्ठï यंत्री जयंत चंदेल द्वारा स्टीमेट बनाने 5 हजार रुपये रिश्वत की मांग की थी. ग्रामीण द्वारा इतनी राशि देने में असमर्थता पर बात 1800 रुपये पर आकर ठहरी. कनिष्ठï यंत्री द्वारा रिश्वत लिये जाने की शिकायत उक्त ग्रामीण ने लोकायुक्त टीम भोपाल को की. ग्रामीण की बताई निशानदेही पर सोमवार शाम को लोकायुक्त टीम ने सुठालिया स्थित कार्यालय में कनिष्ठï यंत्री जयंत चंदेल को संबंधित ग्रामीण से 1800 रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथो पकड़ लिया. लोकायुक्त टीम में डीएसपी एस.एस.चौहान, निरीक्षक उमेश तिवारी, मनोज मिश्रा, अजय राठौर, कैलाश नानेकर आदि शामिल थे. उधर लोकायुक्त टीम के हत्थे रिश्वत लेते हुए चढ़े कनिष्ठï यंत्री का कहना है कि उसे साजिश के तहत बदले की भावना से फंसाया गया है. जन चर्चाओं के अनुसार उक्त कनिष्ठï यंत्री पर पूर्व में भी अनियमितताओं के आरोप लगते रहे है.

बाबू की जेब से निकाले 29 हजार रुपये

पचोर 28 मई, सं. सोमवार शाम 6.30 बजे करीब स्थानीय बस स्टेण्ड पर जनपद पंचायत सारंगपुर में पदस्थ बाबू की जेब पर हाथ साफ करते हुए अज्ञात व्यक्ति ने  29 हजार रुपये उड़ा लिये. जानकारी के अनुसार मूलत: पचोर निवासी सारंगपुर जनपद में बाबू के पद पर पदस्थ राधेश्याम मंगल पचोर से अपनी माताजी को लेकर जब वे जाट बस सर्विस की बस में सवार होकर सारंगपुर के लिये जा रहे तभी किसी ने उनकी जेब में रखे एक-एक हजार के 29 नोट बड़े ही चालाकी से गायब कर लिये. फरियादी द्वारा इसकी रिपोर्ट दर्ज कराई. पुलिस द्वारा शंका के आधार पर दो-तीन महिलाओं से पूछताछ की गई है.

Related Posts: