नई दिल्ली, 16 अक्टूबर. मालगाडिय़ों के किराए में की गई बढ़ोत्तरी के बाद अब ट्रेनों में उच्च श्रेणी यात्रा भी महंगी हो सकती है. रेलवे वित्तीय समस्याओं के मद्देनजर इन ट्रेनों के यात्री किराए को बढ़ाने की योजना को अंतिम रूप दे रही है. रेलवे वित्त आयुक्त पोंपा बब्बर ने कहा, ”हम इस बात ध्यान देने की कोशिश कर रहे हैं कि यात्री किरायों को युक्तिसंगत किया जा सकता है . हम यह भी देखने की कोशिश कर रहे हैं कि किस तरह गरीब जनता पर इसका भार न डाला जाए और किस तरह ज्यादा बढ़ोतरी न की जाए.

प्रस्तावित बढ़ोत्तरी के लिए आगामी रेल बजट का इंतजार किया जाएगा या यह इसे इससे पहले ही लागू किया जा सकता है, के जवाब में उन्होंने कहा, ”यह किसी भी समय संभव है. इस मुद्दे पर ज्यादा पूछे जाने पर पोंपा ने कहा, ”जब हम भारत के समेकित कोष से पैसा लेते हैं तब राशि को निकालने के लिए संसद में जाने की जरूरत होती है. लेकिन किराए में वृद्धि के लिए हमें संसद में जाने की जरूरत नहीं है. हमें इसके :किराए में बढ़ोतरी: लिए संसद की मंजूरी लेना जरूरी नहीं है.

Related Posts: