… उधर आयकर ने निकाला बिल्डरों का ‘दिवाला’

  • प्रॉपर्टी शो के दौरान मिले थे सुराग

इन्दौर, 19 अक्टूबर. गत दिनों बायपास पर हुए प्रापर्टी शो से मिले सूत्रों की बिना पर आयकर विभाग द्वारा शहर के बड़े बिल्डर्स पर मारे गए छापे में 69 करोड़ रुपए की अघोषित सम्पत्ति उजागर हुई है.

प्रापर्टी शो में क्रेडाई के बैनर तले कई छोटे-बड़े बिल्डर्स ने मंदी से उबरने हेतु ग्राहकों को रिझाने के लिए प्रापर्टी क्रय हेतु अलग-अलग योजनाएं प्रस्तुत की थीं. इस शो को आयकर विभाग ने गंभीरता से लेते हुए गुपचुप तरीके से विभिन्न बिल्डर्स  की प्रापर्टी भी लिस्ट बनाकर आज उन पर धावा बोल दिया. रियल इस्टेट कारोबारी मोहन चुघ से लेकर मेडीकैप्स के रमेश मित्तल, मान डेवलपर, सुनील  अग्रवाल एसोसिएट्स, सुदंरलाल मूलचंद आदि के ठिकानों पर आयकर की टीम पहुंची व दस्तावेज अपने कब्जे में लिए. इसी प्रकार मेडिकैप्स के पीछे ग्राम पांदा की जमीन पर विकसित हो रही टाउनशिप सन सिटी के कर्ताधर्ताओं के यहां सर्वे शुरू हुआ.

ओशियन पार्क के पार्टनर मोहन चुघ के अलावा लीलाधर माहेश्वरी और उसके दलाल सुनील अग्रवाल के यहां से भी महत्वपूर्ण कागजात कब्जे में लिए गए. श्री अग्रवाल द्वारा गत दिनों काशा ग्रीन प्रोजेक्ट तलावली चांदा में प्रारंभ किया गया है. सृष्टि कंस्ट्रक्शन के प्रोजेक्ट अवासा में भागीदार सुंदरलाल मूलचंद बीड़ी वाले के तीन ठिकानों पर कार्रवाई की गई. बताया जाता है कि कतिपय बिल्डरों के यहां से बड़ी मात्रा में कालाधन उजागर होने की संभावना है.

Related Posts: