मुंबई.मुद्रास्फीति के कमजोर आंकड़ों से निराश बाजार में भारी बिकवाली दर्ज की गई. इसके अलावा यूरोपीय बाजारों की कमजोर शुरुआत के चलते भी बाजार में गिरावट बढ़ती दिखी. कारोबार के आखिरी घंटे में बिकवाली का दबाव बढऩे के चलते बाजार करीब 1 फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुए. सेंसेक्स 203 अंक गिरकर 16ए678 के स्तर पर और निफ्टी 67 अंक की गिरावट के साथ 5ए055 के स्तर पर बंद हुआ.

वहीं सभी प्रमुख एशियाई बाजार गिरावट के साथ बंद हुए. जापान का निक्केई मामूली गिरावट के साथ 5ए569 के स्तर पर और हैंगसेंग करीब 1 फीसदी गिरकर 18ए808 के स्तर पर बंद हुआ. शांघाई और ताईवान के बाजारों में भी गिरावट दर्ज की गई. यूरोपीय बाजारों की शुरुआत मंदी रही. एफटीएसईए सीएसी और डैक्स सहित सभी प्रमुख यूरोपीय बाजारों में करीब 1 फीसदी की गिरावट देखने को मिल रही है. घरेलू बाजारों में पीएनबी निफ्टी का टॉप लूजर रहा. बैंक के शेयरों में करीब 6 फीसदी की गिरावट देखने को मिली. टाटा मोटर्सए आईडीएफसीए एलऐंडटी और एनटीपीसी के शेयरों में गिरावट देखी गई. वहीं दूसरी ओर इन्फोसिस निफ्टी का टॉप गेनर रहा. एसीसीए बीपीसीएलए सिप्लाए सेसा गोवा और केयर्न इंडिया के शेयर तेजी के साथ बंद हुए.

आईटी कंपनियों के कारोबार में दर्ज की गई तेजी के अलावा सभी सेक्टोरल इंडिसेज गिरावट के साथ बंद हुए. रियल्टी इंडेक्स में सबसे अधिक करीब 3 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई. इसके अलावा बैंकेक्सए कैपिटल गुड्स और पावर इंडेक्स में भारी गिरावट देखने को मिली. सकारात्मक खबरों के आधार पर हेंकेल इंडियाए मोजर बीअर और कोलगेट.पॉमोलिव के शेयरों में तेजी देखने को मिली. कैबिनेट द्वारा फर्टिलाइजर की कीमतें बढ़ाए जाने का प्रस्ताव टाले जाने की खबर के बाद फर्टिलाइजर कंपनियों के शेयरों में गिरावट दर्ज की गई.

Related Posts: