भोपाल, 2 अप्रैल, नभासं. एक ओर शादी का सीजन किसानों को अपनी ही फसल बेंचने में मशक्कत करनी पड़ती है. पहले तो समय के पहले फसल बिकने का किसान इंतजार करता है. और अगर बिक भी जाती है तो पैसे मिलने का इंतजार इसी के चलते राजधानी की गल्ला मंडी में सोमवार को हम्माल मंडी में हड़ताल करने के लिये एकत्रित हुए थे.

इसी के चलते किसानों ने हंगामा करना शुरू कर दिया. किसानों ने मंडी सचिव का घेराव कर उत्पाद मचाने लगे. शासन के नियमानुसार अब किसानों को मैसेज किया जायेगा. जब किसान के पास मैसेज आयेगा उसी के पश्चात किसान का कांटा हो जायेगा. इस मैसेज को लेकर किसानों के पास अगर कंपनी का मैसेज भी आता है तो वह उसे उत्सुकता के साथ देखता है कि कही मंडी से तो मैसेज नहीं आया है. इन सब कारणों से किसानों में आक्रोश है. और वह चाहते है कि हमारा अनाज जल्द से जल्द विक जाये जिसमें किसानों के रूके कार्य हो सके. मंडी सचिव ने आश्वासन दिया है कि आपका गेंहू समय पर बिक जायेगा. और पैसे भी समय पर मिल जायेंगे. तब जाकर किसानों ने अपनी हड़ताल स्थगित की.

Related Posts: