• मोटर लगाते समय पता चला गैस का

विदिशा 21 नवंबर नससे. विदिशा जिले के पठारी क्षेत्र के बीलाखेड़ी गांव में उत्खनित नलकूप के  बोर में मोटर डाली जाने के दौरान धड़ाके के साथ ज्वलनशील गैस निकल आई, जिससे मोटर ऊपर फि क गई वहीं पाईप लाल हो गए. गैस के पास माचिस जलाने पर 5-6 फीट ऊंची आग की लपटें निकलने लगीं, जिससे सनसनी फैल गई.

समीपस्थ बीलाखेड़ी में कांग्रेस नेता दामोदरसिंह ठाकुर के खेत में उत्खनित नलकूप के बोर में विगत दिवस जब 5 हॉर्स पावर की समरर्सिवल मोटर और पाईप डाले गए तो करीब दस मिनिट तक तो पानी निकलता रहा, उसके बाद तेज आवाज आई ओर धड़ाके के साथ मोटर करीब 30 फीट ऊंचाई तक चली गई, जिससे लोगों में दहशत फ़ैल गई. घटना की सूचना मिलने पर पठारी थाना प्रभारी इंद्राजसिंह ठाकुर मौके पर पहुंचे और उन्होंने वहां का जायजा लिया. दामोदरसिंह  ने बताया कि विगत जून में उन्होंने खेत में टयूबवैल हेतू 350 फीट गहरा बोर कराया था. रविवार को जब उसमें समरर्सिवल मोटर और पाईप डाले तो उसमें से गैस निकलने की आशंका हई. उन्होंने गैस के पास माचिस की तीली जलाई तो 5-6 फीट ऊंची आग की लपटें निकलने लगीं. भारी मशक्कत से एक घंटे बाद आग बुझाई जा सकी. आग की लपटों की बजह से लोहे के पाईप लाल हो गए थे.  मेकेनिक शफीक खां ने बताया कि नलकूप के बोर से लगातार निकल रही ज्वलन शील गैस की बजह से बोर में अब समरर्सिवल मोटर डालना संभव नहीं है. वहीं बागौदा के हरनामसिंह ठाकुर ने बताया कि बोर से ज्वलनशील गैस निकलने से प्रतीत होता है कि इस क्षेत्र के आसपास गैस का भंडार हो सकता है. इस बारे में फिलहाल तरह-तरह की अटकलें लगाई जा रही हैं.

Related Posts: