भोपाल, 7 मई. हताईखेड़ा डेम को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने एवं इसकी जल भराव क्षमता को बढ़ाने हेतु प्रत्येक रविवार को श्रमदान का कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है.

इसी क्रम में इस रविवार को भी नगरीय प्रशासन मंत्री बाबूलाल गौर ने यहां पहुंचकर स्वयं भी श्रमदान किया और श्रमदान करने आये नागरिकों का उत्साहवर्धन भी किया. उन्होंने कहा कि राजधानी में राजाभोज ताल के बाद हताईखेड़ा बांध सबसे बड़ी जल संरचना है. गौर ने कहा कि जलाशयों की सुरक्षा हेतु हम संकल्पित हैं और इसके लिये सतत्ï रूप से कार्य भी कराये जा रहे हैं. उन्होंने जल की बचत और जल संरचनाओं के संरक्षण हेतु नागरिकों का आह्वïन भी किया. रविवार को गहरीकरण कार्य में निगम की 3 जेसीबी मशीनों व 11 डम्परों तथा नागरिकों द्वारा किये गये श्रमदान के माध्यम से 96 ट्रिप गाद, मिट्टïी निकाली गई.

Related Posts: