भोपाल,26 अप्रैल,नभासं. इंजीनियरिंग कालेजों में प्रवेश लेने के लिए आवेदकों की संख्या एक लाख के ऊपर पहुंच गई है. सत्र 2012-13 में दाखिला लेने राजधानी के विद्यार्थी उत्साही नहीं दिख रहे हैं.

यही कारण है कि अभी तक भोपाल से 12 हजार आवेदन तक जमा नहीं हो सके. इसमें आवेदन करने में प्रदेश के चार बड़े शहरों में इंदौर सबसे आगे और भोपाल का नंबर सबसे पीछे है. मप्र व्यावसायिक परीक्षा मंडल द्वारा आयोजित प्री इंजीनियरिंग टेस्ट (पीईटी) में सवा लाख से ज्यादा आवेदन शामिल होंगे. सोमवार तक के आंकड़े बताते हैं पीईटी में शामिल होने एक लाख से ज्यादा आवेदन जमा हो चुके हैं. इसमें प्रदेश के बाहरी चार शहरों के करीब 14 हजार आवेदन शामिल हैं. जबकि पिछले सोमवार को कुल आवेदन की संख्या महज 61 हजार थी.

हालांकि आवेदन करने के लिए दो दिन अभी शेष हैं. आवेदन करने की अंतिम तिथि 25 अप्रैल है. जानकारों के मुताबिक इन दो दिनों में आवेदन में 25 हजार की बढ़ोतरी हो सकती है. गत वर्ष व्यापमं को एक लाख बीस हजार आवेदन प्राप्त हुए थे. इंदौर और पटना आगे : व्यापमं ने 20 मई को होने वाली पीईटी के लिए प्रदेश हरेक शहर से आनलाइन आवेदन जमा कराने की आनलाइन व्यवस्था की है. इसमें इंदौर में सबसे ज्यादा 14 हजार आवेदन जमा हुए हैं. जबकि भोपाल दस हजार तक नहीं पहुंच सका है. इसके साथ प्रदेश के बाहर चार बड़े शहरों में आवेदन जमा करने की व्यवस्था भी की गई है, जिसमें दिल्ली, पटना, लखनऊ और रायपुर शामिल हैं. इसमें सबसे ज्यादा आवेदन का आंकड़ा पटना में नौ हजार तक पहुंचने वाला है. जबकि, दिल्ली 500 की सीमा तक नहीं लांघ पाया है.

Related Posts: