मंदिरों में भक्तों का तांता, आज से कन्या भोज

भोपाल, 29 मार्च, नभासं. राजधानी में भक्तगण मातारानी की आराधना में लीन है, कल सप्तमी से कन्या भोज भंडारे का सिलसिला शुरू हो जायेगा. कई जगहों पर माताजी का दरबार सज रहा तो राजधानी के आसपास प्राचीन मंदिरों में धूमधाम से माता जी के दर्शन करने भक्तगण पहुंच रहे है.

सुबह से मंदिरों में पहुंचने वाले भक्तों का तांता लग रहा है. कोई मंदिर में मातारानी के सामने जाप कर रहा है तो कोई मातारानी के चरणों में जल चढ़ा रहा है. राजधानी के कई स्थानों पर माता जी के दरबार सज रहे है जिससे बड़ी संख्या में भक्तगण पहंच रहे है. छोटे तालाब किनारे कालीमाता मंदिर सोमवारे में भवानी मंदिर, टीटी नगर में माता मंदिर, समेत शहर के सभी माता मंदिरों में दिन भर भक्तों का तांता लगा रहता है. आरती के दौरान यह संख्या और अधिक हो जाती है.

प्राचीन मंदिर:- राजधानी के विराट प्राचीन मंदिर सलकनपुर, कंकाली मंदिर, तरावली मंदिर, परवलिया स्थित शक्ति धाम मंदिर, पंचशील नगर में महाकाली मंदिर में बड़ी संख्या में भक्त पहुंच रहे है. आज से कन्या भोज:- सप्तमी से भक्तगण कन्या भोज कराना आरंभ कर देते है. जो नवमी तक जारी रहता है. अष्टमी और नवमी पर हवन, भण्डारे भी मंदिरों एवं घरों में होंगे. ज्वारे:- मंदिरों एवं घरों में ज्वारे सजाये गये है जिनका विसर्जन कही-कही अष्टमी पर तो कही नवमी पर होगा.

बटा सुहाग का सामान:- माँ ईरावती चित्रगुप्त संस्कृति एवं समाजिक न्यास द्वारा संचालित श्री रामजानकी चित्रगुप्त मंदिर, मां दुर्गा मंदिर, चित्रगुप्त नगर कोटरा में आज महाआरती का आयोजन किया गया. न्यास के प्रचार सचिव दीप श्रीवास्तव ने बताया कि इस अवसर पर 501 दीपकों द्वारा उपस्थित सैकड़ों महिलाओं ने संगीत के बीच मां की आरती उतारी. न्यास द्वारा सभी महिलाओं को सुहाग का सामान वितरित किया गया. इस अवसर पर न्यास के अध्यक्ष राजेश वर्मा, ओपी श्रीवास्तव सहित न्यासीगण उपस्थित थे.

माँ अम्बे की महाआरती:- भोपाल के ऋषि परिसर स्थित श्री महाकाल मंदिर में मां अम्बे की 108 दीपकों से महाआरती का आयोजन किया गया. जिसमें बड़ी संख्या में भक्त  जन उपस्थित हुए मंदिर के संस्थापक पं. रामकिशोर वैदिक ने सनातन धर्मालंबियों को नवदुर्गा का महत्व बताया. वेदिक जी ने वर्तमान में समाज में कन्याओं एवं महिलाओं के बारे में प्रकाश डालते हुए कहा यत्र नारी पूजंते तत्र रमयन्त देवता अर्थात जिस समाज में नारी का सम्मान किया जाता है वहां सुख समृद्धि की वृद्धि होती है. इसी के साथ कार्यक्रम का समापन किय गया. शिवराज सिंह चौहान के द्वारा जो बालिका बचाओ आन्दोलन चल रहा है उसके मां जगदम्बा इस कार्य में सहायता करे.

Related Posts: