भोपाल,9 नवम्बर.  भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष और विधायक जीतू जिराती ने कहा कि केन्द्र सरकार को बताना चाहिए कि पेट्रोल मूल्य वृद्धि का वास्तविक कारण क्या है.

तेल कंपनियों ने पेट्रोल के मूल्य प्रति डॉलर 1.80 रू. ऐसे समय बढ़ाये जब अन्र्तराष्ट्रीय बाजार में मूल्य नहीं बढ़े थें. फिर जब गेसोलाईन पेट्रोल के दाम यूएसडी 125 डॉलर प्रति बैरल से घटकर 115 डॉलर पर आ गये है केन्द्र सरकार को पेट्रोल के बढ़े हुए दाम तत्काल प्रभाव से वापस लेना चाहिए. जीतू जिराती ने नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक के नवीनतम प्रतिवेदन का हवाला देते हुए कहा कि तेल कंपनियां मुनाफा कमा रही है. फिर अंडर रिकवरी बताकर जनता को गुमराह करने के पीछे सरकार की क्या मंशा है? जीतू जिराती ने कहा कि केन्द्र सरकार मंहगाई और पेट्रोलियम उत्पाद मूल्य वृद्धि को लेकर जनता को लगातार भ्रमित करने में लगी है.

भाजपा के बागी लौटेंगे पार्टी में
भारतीय जनता पार्टी अनुशासन समिति की बैठक समिति के अध्यक्ष कैलाश सारंग की अध्यक्षता में हुई. बैठक में संभागवार 446 प्रकरणों पर विचार किया गया. बैठक में रविनंदन सिंह, सरदार प्यारा सिंह और डॉ. उमाशशि शर्मा ने भाग लिया तथा प्रकरणों की विस्तार से समीक्षा की. समिति के अध्यक्ष कैलाश सारंग ने बताया कि 446 विचाराधीन प्रकरणों में से कुछ एक प्रकरणों को छोड़कर सभी प्रकरणों में बहाली पर सहमति बनी है. दो चार प्रकरण ऐसे है जिन पर अलग से विचार करने की आवश्यकता महसूस की गयी.कैलाश सारंग ने बताया कि 10 नवंबर को हो रही बैठक में बहाली का निर्णय किया जायेगा और अनुशंंसाएं प्रस्तुत कर दी जायेगी. जबलपुर संभाग में 41, सागर संभाग से 23, रीवा संभाग 62, उज्जैन संभाग 99, इंदौर संभाग 31, ग्वालियर संभाग 123 और भोपाल संभाग से 67 प्रकरण अनुशासन समिति के समक्ष प्रस्तुत किये गये. प्रदेश कार्यालय मंत्री आलोक संजर ने संभागवार प्रकरणों को समिति के समक्ष प्रस्तुत किया.

सहकारिता प्रकोष्ठ की बैठक आज
भारतीय जनता पार्टी सहकारिता प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक रमाकांत भार्गव ने बताया कि सहकारिता प्रकोष्ठ की प्रदेश कार्यसमिति, कोर ग्रुप एवं प्रदेश पदाधिकारियों, जिलों के संयोजक, सह संयोजकों की संयुक्त बैठक 10 नवंबर को आयोजित की गयी है. मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान, पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष और सांसद प्रभात झा एवं प्रदेश संगठन महामंत्री अरविन्द मेनन उदघाटन सत्र में मौजूद रहेंगे.सहकारी प्रकोष्ठ की इस मिलीजुली बैठक में विशेेष आमंत्रित सदस्य, अपेक्स संस्थाओं के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, जिला बैंक अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, जिला कृषि एवं विकास ग्रामीण बैंक के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, थोक भंडारों के अध्यक्ष, जिला सहकारी संघ के अध्यक्ष एवं प्रकोष्ठ के जिला संयोजक भी बैठक में आमंत्रित किये गये है.

Related Posts: