इस्लामाबाद, 16 जुलाई. पाकिस्तान में आम चुनाव नवंबर के पहले सप्ताह में कराए जा सकते हैं। प्रधानमंत्री राजा परवेज अशरफ 14 अगस्त को इस बारे में घोषणा कर सकते हैं।

सत्तारूढ़ पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी और मुख्य विपक्षी पीएमएल-एन के बीच आगामी आम चुनाव के संबंध में कल चर्चा हुई। खबरों के मुताबिक, प्रधानमंत्री औपचारिक तौर पर चुनाव के बारे में पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस 14 अगस्त को इसकी घोषणा करेंगे। आगामी आम चुनाव अगले साल मार्च में प्रस्तावित हैं, जब पीपीपी की अगुवाई वाली सरकार अपना पांच साल का कार्यकाल पूरा करेगी। हालांकि, कमजोर प्रशासन और भ्रष्टाचार के आरोपों की पृष्ठिभूमि में पहले चुनाव कराए जाने को लेकर पीपीपी दबाव का सामना कर रही है।

उधर, सुप्रीम कोर्ट के फैसले से अलग तरह का दबाव बना हुआ है। सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री अशरफ को 25 जुलाई तक राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी के खिलाफ भ्रष्टाचार के मामलों को खोलने के लिए स्विस प्रशासन से संपर्क साधने को कहा है। जरदारी के खिलाफ फिर से मामला खोले जाने से इंकार करने पर अशरफ के पूर्ववर्ती यूसुफ रजा गिलानी अवमानना के दोषी करार दिए गए थे और शीर्ष अदालत ने उन्हें अयोग्य ठहराया था। कामचलाऊ प्रधानमंत्री न तो पीपीपी या पीएमएल-एन से होगा और न ही वह किसी अन्य राजनीतिक दल के सदस्य या नेता होगा।

zp8497586rq

Related Posts:

नेपाल में राष्ट्रीय सरकार का गठन
गैस राहत मंत्री गौर द्वारा करोंद में शाला भवन का लोकार्पण
5,700 के ऊपर सिमटा निफ्टी जेपी, अंबुजा सीमेंट चढ़े
जरूरत के अनुसार ही बनायें मतदान-केन्द्र : परशुराम
आतंकवाद पर पाकिस्तान नहीं निभा रहा सकारात्मक भूमिका : राजनाथ सिंह
सुषमा के खिलाफ कांग्रेस लाएगी विशेषाधिकार हनन प्रस्ताव