इस्लामाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री युसूफ गिलानी के सोल में अपने भारतीय समकक्ष मनमोहन सिंह व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा से मुलाकात करने की संभावना है।

दक्षिण कोरिया की राजधानी सोल में अगले सप्ताह ये तीनों नेता परमाणु सुरक्षा शिखर सम्मेलन में शिरकत करेंगे।  पाकिस्तानी सरकार के सूत्रों ने बताया कि तीनों नेताओं के शिखर सम्मेलन से इतर एक-दूसरे से मुलाकात करने की संभावना है। ओबामा के साथ बैठक तय हो गई है तथा गिलानी और सिंह के बीच मुलाकात का इंतजाम करने के लिए भारतीय और पाकिस्तानी अधिकारी बातचीत कर रहे हैं। एक सूत्र ने बताया, शांति प्रक्रिया, खासकर व्यापारिक संबंधों को सामान्य बनाने की दिशा में ठोस प्रगति हुई है, और इसलिए हमें भारतीय और पाक प्रधानमंत्री के बीच मुलाकात तय होने की उम्मीद है।

मुंबई हमलों के संबंध में एक पाकिस्तानी न्यायिक आयोग ने भी हाल ही में भारत की यात्रा की थी। इन मुलाकातों के बारे में कोई आधिकारिक जानकारी नहीं मिली है। 26 मार्च से शुरू हो रहे दो दिवसीय शिखर सम्मेलन के लिए गिलानी रविवार को सोल पहुंचेंगे। गिलानी की ओबामा के साथ बैठक ऐसे समय में होगी, जब पाकिस्तानी संसद की संयुक्त बैठक शुरू होगी। इस बैठक में अमेरिका के साथ संबंधों की नई शर्तो पर बहस होगी, जो राष्ट्रीय सुरक्षा संबंधी संसदीय समिति ने सुझाई हैं। सरकारी सूत्रों ने बताया कि बैठक में इन नई शर्तो पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा। पिछले साल की कुछ घटनाओं के मद्देनजर पाक सरकार ने अमेरिका के साथ संबंधों की संसदीय समीक्षा किए जाने का आदेश दिया था। इन घटनाओं में एबटाबाद में ओसामा बिन लादेन का मारा जाना और नवंबर में नाटो के हवाई हमले में 24 पाक सैनिकों की मौत का मामला शामिल है।

Related Posts: