इंदौर/भोपाल/अजमेर/नई दिल्ली, 24 मई. केंद्रीय मध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की 10वीं कक्षा की परीक्षा में लड़कियों ने 98.48 पास प्रतिशत के साथ लड़कों से एक बार फिर से बाजी मार ली है। 10वीं बोर्ड में लड़कों का पास प्रतिशत 97.98 रहा। लड़कियों का पास प्रतिशत लड़कों के मुकाबले 0.50 प्रतिशत बेहतर रहा। अजमेर ने बीते साल की तरह ही तीसरा स्थान पाया है।

सीबीएसई के अधिकारी ने बताया कि 10वीं बोर्ड परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया गया है। परीक्षा में कुल पास प्रतिशत 98.19 प्रतिशत दर्ज किया गया। इस वर्ष 10वीं बोर्ड का पास प्रतिशत पिछले वर्ष के मुकाबले दो प्रतिशत बेहतर रहा। बोर्ड के आंकड़ों के मुताबिक, चेन्नई क्षेत्र का पास प्रतिशत देश में सबसे अधिक 99.45 प्रतिशत दर्ज किया गया। इस क्षेत्र का परिणाम 21 मई को घोषित किया गया था। नियमित छात्रों का 2011 में 98.59 पास प्रतिशत था जो कि वर्ष 2012 में बढ़कर 98.84 हो गया है।

प्राइवेट परीक्षार्थियों के परिणाम चिंता में डालने वाले हैं। ग्रेडिंग व्यवस्था के कारण यह उम्मीदवार कमाल नहीं दिखा सके हैं। वर्ष 2011 में इस श्रेणी में पास प्रतिशत 22.04 प्रतिशत था जो कि इस वर्ष गिरकर 16.18 फीसदी रह गया है। बीते साल के पटना के दबदबे को खत्म करते हुए चेन्नई ने 99.45 पास प्रतिशत के साथ टॉप किया है। पटना ने 99.21 के साथ दूसरा स्थान प्राप्त किया है। दिल्ली बीते साल की तरह ही 97.92 पास प्रतिशत के साथ सातवें स्थान पर रहा है। अजमेर ने बीते साल की तरह ही तीसरा स्थान पाया है। भुवनेशवर ने चौथा स्थान प्राप्त किया है। इलाहाबाद ने पास प्रतिशत में सुधार करते हुए 98.56 के साथ पांचवां स्थान प्राप्त किया है जबकि बीते साल वह छठे पायदान पर था। वहीं पंचकुला ने अपने बीते साल के रुतबे को गिराते हुए पांचवें स्थान से लुढ़क कर 98.52 के साथ छठा स्थान प्राप्त किया है।

इंदौर, बोर्ड की ओर से पूर्व में जारी सूचना के आधार पर परीक्षा परिणाम गुरूवार की शाम 4 बजे घोषित होना था, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। तकनीकी कारण से करीब 3 घंटे बाद शाम 7 बजे इंटरनेट पर परिणाम घोषित किया गया।

सीबीएसई दसवीं में इंदौर की दीक्षा कामथ ने मारी बाजी
सीबीएसई में डीपीएस इंदौर के अभिनंदन देसाई का बेहतरीन प्रदर्शन
अनन्या को सीबीएई में मिली शानदार सफलता, लक्ष्य इंजीनियर बनना
सर्वज जैन को 10 वीं में शानदार सफलता। लक्ष्य, आईएएस बनना

गुवाहाटी क्षेत्र पिछड़ा
सबसे कम पास प्रतिशत पाकर गुवाहाटी क्षेत्र ने 88.29 प्रतिशत हासिल किया है। ग्रेडिंग व्यवस्था के तहत देश भर में 68,431 बच्चों को 10 सीजीपीए (ए-1) प्राप्त हुआ है। इस बार सोशल साइंस बच्चों का प्रिय विषय बनकर उभरा है। कुल 11,79,182 छात्रों में से 1,44,773 बच्चों ने सोशल साइंस में ए-वन ग्रेड प्राप्त किया है।

पास प्रतिशत टॉप सेवन

चेन्नई
पटना
अजमेर
भुवनेश्वर
इलाहाबाद
पंचकूला
दिल्ली

Related Posts: