गुजरात भाजपा की बैठक में मोदी ने केंद्र पर साधा निशाना

राजकोट, 10 जून. गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को राज्य कार्यकारिणी की दो दिनों की बैठक को सम्बोधित करते हुए केंद्र की संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार पर जमकर निशाना साधा. मोदी ने कांग्रेस की अगुवाई वाली संप्रग सरकार पर आरोप लगाया कि सरकार देश बचाने का सामथ्र्य खो चुकी है.

मोदी ने कहा, कांग्रेस हताश और निराश हो चुकी है. यह निराशा आए दिन कांग्रेस पार्टी में होने वाली तकरार के रूप में सामने आ रही है और यह देश के लिए स्वाभाविक आक्रोश का कारण है. मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार पहले ही मान चुकी है कि गठबंधन की राजनीति के चलते वह भ्रष्टाचार पर रोक नहीं लगा पा रही है. दुनिया यह मान चुकी है कि 21वीं सदी एशिया की होगी लेकिन यह सदी भारत की होगी अथवा चीन की, इसे यहां की सरकार और जनता को तय करना है. जबकि केंद्र की सरकार ने जनता की आकांक्षाओं को निराश किया है. सरकार ने देश और जनता को निराशा के गर्त में धकेल दिया है.

मोदी ने आरोप लगाया कि सरकार की गलत नीतियों के चलते देश के सामाजिक जीवन को गहरा धक्का लगा है. देश का विकास दर पांच फीसदी के निकट पहुंच गया है. आर्थिक संकट से देश को उबारने के लिए सरकार ने कोई पहल नहीं की और स्थितियां जब नियंत्रण से बाहर हुईं तो यह सरकार नींद से जागी. मोदी ने कहा, देश का नौजवान आज रोजगार के लिए तरस रहा है. मुख्यमंत्री ने महंगाई पर संप्रग सरकार को घेरते हुए कहा, प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने वादा किया था कि वह 100 के दिन के भीतर महंगाई कम करेंगे लेकिन महंगाई कम होने के बजाय वह दिनोंदिन बढ़ती गई.

मनमोहन सिंह महंगाई रोकने के लिए ठोस पहल करने की जगह नई तारीखें घोषित करते रहे. मोदी ने कहा, आज डॉलर के मुकाबले रुपया कमजोर हो गया है. यही हालत बनी रही तो वैश्विक बाजार में भारत टिक नहीं पाएगा. रुपए की इस कमजोरी को हमारे व्यापारी बर्दाश्त नहीं कर पाएंगे. मोदी ने संप्रग सरकार से सवाल किया कि पड़ोसी देशों –पाकिस्तान, श्रीलंका, बांग्लादेश की मुद्राएं डॉलर के मुकाबले कमजोर नहीं हुईं तो अकेला रुपया कैसे डॉलर के मुकाबले कमजोर होता चला गया. मोदी ने कहा, ऐसा केवल भ्रष्ट राजनीति के चलते हुआ है. मैं बहुत गम्भीर आरोप लगा रहा हूं. कांग्रेस बच नहीं सकती. वह बचने का सामर्थ्य खो चुकी है, वह देश को क्या बचाएगी. मुख्यमंत्री ने कहा, सरकार द्वारा रोज-रोज आरोप लगाने और मनगढ़ंत बातें करने से जनता उसके झांसे में नहीं आएगी. हमने विकास की राजनीति की है और विकास का रास्ता अपनाया है. मोदी ने कहा, हमारा संकल्प है कि हम विकास की राजनीति नहीं छोड़ेंगे. यही रास्ता, गरीबों, किसानों और देश का भला कर सकता है, यही रास्ता नौजवानों में उम्मीद पैदा कर सकता है. इसी रास्ते को अपनाकर हम 2012 का विधानसभा चुनाव जीतेंगे.

अब राजकोट में जोशी के पोस्टर, मोदी की मुश्किलें बरकरार

राजकोट. गुजरात भाजपा की दो दिवसीय कार्यकारिणी बैठक का आज आखिरी दिन है. आज मोदी कुछ अहम फैसले लें, इससे पहले बीती रात राजकोट शहर में संजय जोशी के समर्थन में पोस्टर लगाए गए हैं. हालांकि पोस्टर लगाने वालों की पहचान नहीं हो पाई है लेकिन प्रत्यक्षदर्शी बता रहे हैं कि पोस्टर बाइक सवार युवकों ने लगाए हैं.

पोस्टर में लिखा है कि हम दिन चार रहे ना रहें तेरा वैभव अमर रहे मां. चूंकि यह नारा संघ का है इसलिए माना यह जा रहा है कि पोस्टर संघ समर्थकों ने लगाए होंगे.  कार्यकारिणी बैठक के दौरान पोस्टर लगना इस बात का संकेत है कि जोशी को लेकर पार्टी में जो विवाद खड़ा हुआ है वह अभी खत्म नहीं हुआ है. इससे पहले अहमदाबाद और दिल्ली में संजय जोशी के समर्थन में पोस्टर लगाए गए थे जिनमें नरेंद्र मोदी को राजधर्म का पालन करने की नसीहत दी गई थी.

सिन्हा ने मोर्चा खोला

इस बीच यशवंत सिन्हा ने कहा है कि मोदी को मीडिया प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बता रहा है भाजपा नहीं. विश्व हिन्दू परिषद के प्रवीण तोगडिय़ा ने भी संजय जोशी को पार्टी में वापसी की पुरजोर वकालत की है.

मोदी की मुश्किलें बरकरार

राजकोट. गुजरात भाजपा की दो दिवसीय कार्यकारिणी बैठक में मोदी कुछ अहम फैसले लें, इससे पहले बीती रात राजकोट शहर में संजय जोशी के समर्थन में पोस्टर लगाए गए हैं.

पोस्टर लगाने वालों की पहचान नहीं हो पाई है लेकिन प्रत्यक्षदर्शी बता रहे हैं कि पोस्टर बाइक सवार युवकों ने लगाए हैं. पोस्टर में लिखा है कि हम दिन चार रहे ना रहें तेरा वैभव अमर रहे मां. चूंकि यह नारा संघ का है इसलिए माना यह जा रहा है कि पोस्टर संघ समर्थकों ने लगाए होंगे.  कार्यकारिणी बैठक के दौरान पोस्टर लगना इस बात का संकेत है कि जोशी को लेकर पार्टी में जो विवाद खड़ा हुआ है वह अभी खत्म नहीं हुआ है. इससे पहले अहमदाबाद और दिल्ली में संजय जोशी के समर्थन में पोस्टर लगाए गए थे जिनमें नरेंद्र मोदी को राजधर्म का पालन करने की नसीहत दी गई थी.

सिन्हा ने मोर्चा खोला

इस बीच यशवंत सिन्हा ने कहा है कि मोदी को मीडिया प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बता रहा है भाजपा नहीं. विश्व हिन्दू परिषद के प्रवीण तोगडिय़ा ने भी संजय जोशी को पार्टी में वापसी की पुरजोर वकालत की है.

Related Posts: