गुडग़ांव,12 अप्रैल. भारत, बांग्लादेश और श्रीलंका की संयुक्त मेजबानी में खेले गए आईसीसी विश्व कप के श्रेष्ठ खिलाड़ी रहे युवराज सिंह ने बुधवार को कहा कि महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने लंदन प्रवास के दौरान उनसे मुलाकात कर उन्हें काफी भावनात्मक कर दिया था.

युवराज हाल ही में अमेरिका में जर्म सेल कैंसर का इलाज कराकर स्वदेश लौटे हैं.  पत्रकारों से मुखातिब युवराज ने कहा, लंदन में सचिन से मुलाकात महान अनुभव था. मैं इस बात की जानकारी किसी को नहीं होने देना चाहता था लेकिन मीडिया को किसी तरह इसकी जानकारी लग गई. मैं सचिन को देखकर बेहद खुश था. सचिन भारतीय क्रिकेट में किंवदती बन चुके हैं और वह एक उम्दा इंसान हैं. मेरे लिए उनसे मिलना बहुत बड़ा मनोबल था. मैं खुश हूं कि सचिन इतनी दूर से चलकर मुझसे मिलने पहुंचे. युवराज ने कहा कि लम्बे समय से साथ-साथ खेल रहे होने के कारण सचिन के साथ उनकी एक खास तरह की दोस्ती कायम हो गई है. इस कारण उन्हें इस बात का अफसोस है कि वह सचिन के 100वें शतक का गवाह नहीं बन सके. बकौल युवराज, मैं उस टीम का हिस्सा बनना चाहता था, जिसके लिए खेलते हुए सचिन अपना 100वां शतक पूरा करने वाले थे लेकिन दुर्भाग्य से यह नहीं हो सका. मैं इसे लेकर निराश था.

Related Posts: