आडवाणी ने दिखाई हरी झंडी

भोपाल,3 सितबर,नभासं.राज्य सरकार की महात्वाकांक्षी योजना-मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना की पहली ट्रेन को सोमवार शाम को उस समय पंख लगे जब पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया.बुजुर्गों को सरकारी खर्च पर तीर्थ यात्रा कराने के मकसद से बनी इस योजना को आज आडवाणी ने जमकर सराहा.

वह एक समय अपने बचपन की यादों में खो गए और भारत विभाजन का जिक्र करते हुए उन्होंने बताया किस तरह से भारतीय समाज में तीर्थों का महत्व है. उन्होंने कहा कि तीर्थयात्रियों के दर्शन मात्र से ही तीर्थ का फल दूसरे को मिलने लगता है. कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के अलावा उनके मंत्रिमण्डलीय सहयोगी, प्रदेशाध्यक्ष प्रभात झा,सांसद कैलाश जोशी व पूर्व सरसंघ चालक केसी सुदर्शन भी मौजूद थे.

ईमानदारी दिखे: आडवाणी
आडवाणी ने भाजपाईयों को नसीहत दी कि अगर शासन करने का मौका मिले तो पूरी ईमानदारी के साथ जनता कि सेवा करना चाहिए. राजा राम से यह प्रेरणा मिलती है कि शासन और प्रशासन राम राज्य के निकट हो तथा शासन करने वाले ईमानदार बने रहें.

बुढ़ापा बोझ नहीं : शिवराज
सीएम ने कहा कि वे एसे बेटे बहुओं को ये संदेश देना चाहते हैं कि जो कि अपने मां बाप का ख्याल नहीं रखते कि राज्य में बुढ़ापा बोझ नहीं बल्कि वरदान समझा जाएगा.उन्होंने आज फिर दोहराया कि मप्र मेरा मंदिर जनता भगवान और मैं पुजारी हूं.

सांझा चूल्हे में भोजन

सीएम ने कहा कि उनके राज्य का कोई बुजुर्ग अब भूखा नहीं सोएगा और सभी खाना मिले इसके लिए इस तरह के परेशान बुजुर्गों का खाना अब सांझा चूलहे में बना करेंगा

zp8497586rq

Related Posts: