भोपाल, 19 अक्टूबर. एकलव्य द्वारा प्रकाशित पत्रिका ”चकमक” का अगला अंक 300वां अंक विशेषांक होगा. इस अवसर पर एकलव्य तीन दिवसीय समारोह का आयोजन 21 से 23 कर रहा है. इसके अन्तर्गत भारत भवन और टीटीटीआई सभागार में विभिन्न कार्यक्रम संपन्न होंगे.

इसमें गुलजार, प्रो. कृष्णकुमार विनोद कुमार शुक्ला, असगर वजाहत, प्रियंवद, नरेश सक्सेना, पदमश्री मंजूर एहतेशाम सहित देश के जाने-माने कवि, विचारक चित्रकार और कथाकार हिस्सा ले रहे हैं. जश्ने बचपन नाम से आयोजित इस समारोह में पहले दिन शिक्षा में बाल साहित्य की भूमिका विषय पर एक सम्वाद टीटीटीआई आडिटोरियम में शाम 4.30 बजे से होगा. इसमें प्रो. कृष्णकुमार, उदयन वाजपेयी और मुकुल प्रियदर्शिनी अपने विचार व्यक्त करेंगे. शनिवार को भारत भवन में सुबह 10.30 से बाल साहित्य की वर्तमान चुनौतियां विषय पर एक मंथन होगा.

इसमें कवि एवं फिल्मकार गुलजार, उदयन वाजपेयी, अनुष्का रविशंकर, राजा मोहंती, दिलीप चिंचोलकर और सुशील शुक्ल प्रमुख वक्ता होंगे. 5 बजे चकमक के 300वें अंक का विमोचन गुलजार करेंगे. रविवार 10 बजे से 4 बजे तक मध्यप्रदेश के विभिन्न अंचलों से आए तथा स्थानीय बच्चों सहित लगभग 400 बच्चों के साथ विभिन्न गतिविधियों की जाएंगी.

Related Posts: