उपचुनावों में चारों सीटों पर कांग्रेस चित

नई दिल्ली, 17 अक्टूबर. हरियाणा की हिसार लोकसभा सीट के लिए हुए उपचुनाव में अन्ना की अपील असर दिखाती नजर आ रही है। कांग्रेस उम्मीदवार जयप्रकाश बुरी तरह से हार गए हैं। हरियाणा जनहित कांग्रेस के कुलदीप बिश्नोई ने यह सीट जीत ली है। दूसरे नंबर पर रहे आईएनएलडी के अजय चौटाला। कांग्रेस के जयप्रकाश तीसरे नंबर पर रहे।

जनलोकपाल बिल के लिए मुहिम चला रहे अन्ना हजारे और उनकी टीम के दखल की वजह से यह उपचुनाव खासा दिलचस्प हो गया था। इसके नतीजों पर पूरे देश की नजरें टिकी थीं। इस लोकसभा क्षेत्र में कुल नौ विधानसभाएं आती हैं, जिनमें से उकलाणा, हांसी तथा बवानी खेड़ा में विश्नोई व चौटाला के बीच कड़ी टक्कर रही। शेष विधानसभा क्षेत्रों में बिश्नोई शुरू से अपनी बढ़त बनाए रहे। यहां प्रत्याशी तो 40 से भी ज्यादा थे, लेकिन मुख्य मुकाबला तीन दलों – हरियाणा जनहित कांग्रेस, इंडियन नैशनल लोकदल और कांग्रेस के बीच था। यह सीट हरियाणा जनहित कांग्रेस के नेता और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री भजनलाल के निधन की वजह से खाली हुई थी।

‘अन्ना’ ने फिर दी कांग्रेस को चेतावनी

नई दिल्ली, हिसार में कांग्रेस की करारी हार के बाद अन्ना हजारे ने कांग्रेस को नसीहत दी है कि वह इससे सबक ले और जनलोकपाल बिल को शीतकालीन सत्र में ससंद से पारित करवाए। उन्होंने सत्ताधारी पार्टी को चेतावनी दी कि अगर ऐसा नहीं हुआ तो वह अगले विधानसभा चुनावों में पार्टी के खिलाफ निजी तौर पर चुनाव प्रचार करेंगे। अपने गांव रालेगण सिद्धि में मौन व्रत पर बैठे अन्ना ने ब्लॉग के जरिए सफाई दी कि उनकी टीम में फूट की रिपोर्ट झूठी है। उन्होंने कहा कि नकारात्मक खबरों का असर नहीं पड़ेगा और पूरी टीम एकजुट रहेगी। अन्ना ने कहा कि टीम में मतभेद पैदा करने की कोशिश की जा रही है लेकिन इससे हमारी एकता नहीं टूटेगी। टीम अन्ना के सदस्य अरविंद केजरीवाल ने भी कहा, च्हिसार का परिणाम जनलोकपाल विधेयक पर जनमत संग्रह जैसा है। कांग्रेस को इससे सबक लेना चाहिए और अब जन लोकपाल विधेयक पास करना चाहिए।ज् उन्होंने कहा कि बिश्नोई की जीत से हमारा कोई लेना-देना नहीं है।

हार के कारणों की समीक्षा होगी: मुखर्जी
हिसार उपचुनाव में कांग्रेस ने अपनी हार स्वीकार कर ली है। कांग्रेस नेता प्रणव मुखर्जी ने कहा कि चुनाव नतीजों का अन्ना की अपील से कोई मतलब नहीं है। उनके मुताबिक कांग्रेस की हार अन्ना की अपील की वजह से नहीं हुई है। हालांकि मुखर्जी यह नहीं बता पाए कि हार क्यों हुई है। उन्होंने कहा, उनकी पार्टी इस बात पर विचार करेगी कि कांग्रेस की हार की क्या वजहें रहीं।

  •  खडग़वासला पर भाजपा का कब्जा

महाराष्ट्र की खडग़वासला विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार भीमराव तपकिर विजयी रहे हैं। शिवसेना का समर्थन प्राप्त तपकिर ने सत्तारूढ़ कांग्रेस-राष्ट्रवादी कांग्रेस पाटी  के उम्मीदवार हर्षदा वंजाले को हरा दिया।

  •  दरौंदा में जदयू की जीत

बिहार के सीवान जिले में दरौंदा विधानसभा सीट के उपचुनाव में सत्तारुढ़ जदयू की प्रत्याशी कविता कुमारी ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी राजद के परमेश्वर सिंह को आज 20 हजार से अधिक मतों से पराजित कर दिया।

  •  बांसवाड़ा में टीआरएस विजयी

आंध्र प्रदेश के तेलंगाना क्षेत्र में बांसवाड़ा विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में तेलंगाना राष्ट्र समिति [टीआरएस] के उम्मीदवार पी. श्रीनिवास रेड्डी विजयी रहे है। रेड्डी को करीब 50 हजार मतों से जीत हासिल हुई है।

Related Posts: