मुंबई, 20 दिसंबर. इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइक बीयरले का मानना है कि सौवें शतक के हाइप ने भारत के महान बल्लेबाज सचिन तेंडुलकर को चिड़चिड़ा बना दिया है.

बीयरले ने राजसिंह डूंगरपुर वल्र्ड क्रिकेट सम्मेलन में कहा दूर बैठकर विश्लेषण करना आसान नहीं होता. लेकिन उसे देखकर लगता है कि सचिन चिड़चिड़ाहट में है. मनोविज्ञान विश्लेषक बीयरले से पूछा गया था कि सौवें शतक के लंबे इंतजार से क्या तेंडुलकर के प्रदर्शन पर असर पड़ा है? उन्होंने भारतीय टीम के 2006 के इंग्लैंड दौरे का हवाला दिया जब तेंडुलकर खराब दौर से जूझ रहे थे. उन्होंने कहा उस समय वह पूरी तरह फिट नहीं था और कोहनी की चोट से उबरा ही था. वह सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में भी नहीं था लेकिन उसने उस दौरे पर कुछ अच्छी पारियां खेली. वह बल्लेबाजी करता है तो रन बनाना काफी आसान लगता है. बीयरले ने राहुल द्रविड़ की भी तारीफ की, जिन्होंने आलोचकों को करारा जवाब देते हुए इस साल 1000 से ज्यादा टेस्ट रन बनाए. उन्होंने कहा राहुल बेहतरीन इंसान और खिलाड़ी है. वह काफी साहसी है और चुनौतियों से निपटना जानता है. वह काफी दृढ़ और निर्णय का पक्का है.

Related Posts: