तलेन  2 जनवरी, नससे. शनिवार को भी दिनभर बादलों के बीच सूरज का लुकाछुपी का खेल चलता रहा किंतु रविवार को दिन भर सूरज बादलों में छुपा रहा. सूरज के दर्शन दुर्लभ हो गए. घने कोहरे के चलते ठंड से जनजीवन ठप्प-सा हो गया.

क्षेत्र में एक पखवाडे से जारी शीतलहर का असर कम होने का नाम नहीं ले रहा हैं. ठंड से बचने के लिए लोग गरम कपउे साल के अलावा घरों में व कहीं-कही सार्वजनीक स्थलो में दिन में भी अलाव का सहारा लेने को मजबूर हो रहे हैं. लगातार गीर रहे पारे के कारण लोगों के स्वास्थ्य पर भी बुरा असर पड रहा हैं. बच्चों एवं बुजुर्गो में खाँसी, सर्दी, जुकाम के साथ बुखार की शिकायत भी हो रहीं हैं.  ठंड के चलते लोगो की दिनचर्या बदल गई हैं शाम होते ही ठंड के कारण नागरिक घरों में दुबक जाते हैं. रात्रि 8 बजे से हीं बजार में सन्नाटा हो जाता हैं. किसान रामगोपाल जायसवाल रेठानी, पर्वत सिंह लववंशी फूलपुरा, कनीराम कुशवाह, दूलेसिंह राजपूत, जगदीश राजपूत ग्राम परसूखेडी आदि ने बताया कि मोसम का नजारा ऐसा ही रहा तो चने की फसल में इल्लियों का प्रकोप बढने की संभावना हैं. वहीं बादलों को देखते हुए बारिश की संभावना बनने से किसानो में खुषी की लहर दोड गई हैं यही हाल रहा तों एक दो दिन के भीतर मावटा (बारिश) हो सकती हैं.

Related Posts: