दलित की मौत के मामले में एसपी की कार्यवाही

राजगढ़/ब्यावरा 20 जुलाई, नससे. गुरुवार को पुलिस अभिरक्षा में हुई एक दलित युवक की संदिग्ध मौत के मामले में अंतत: जिला पुलिस अधीक्षक रुचिवर्धन मिश्रा ने आज एन्टी गुण्डा स्क्वाड टीम के प्रभारी उपनिरीक्षक चेन सिंह रघुवंशी, महिला उपनिरीक्षक अमृता सौलंकी सहित 7 पुलिसकर्मियों को लाईन अटैच कर दिया है.

उल्लेखनीय है कि जिला मुख्यालय पर रहने वाले विजय पिता बद्रीलाल जाटव 22 वर्ष को पुलिस ने 17 जुलाई की रात घर से अपनी अभिरक्षा में लिया था. जिसकी 19 जुलाई को संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई. इस मामले में परिजनों द्वारा गुरुवार को काफी बवाल भी मचाया गया था. पुलिस ने जहां इसे आत्महत्या का रुप देने का प्रयास किया था वहीं परिजनों ने सीधे तौर पर आरोप लगाया था कि युवक की पुलिस द्वारा प्रताडऩा देते हुए हत्या की गई है. इस मामले को ‘नवभारतÓ ने शुक्रवार के अंक में प्रमुखता के साथ प्रकाशित किया था. एसपी रुचिवर्धन मिश्रा ने आज शुक्रवार को इस मामले में एन्टी गुण्डा स्क्वाड के चेन सिंह रघुवंशी, अमृता सौलंकी, विजय, अनिल, दिनेश गुर्जर तथा राजगढ़ कोतवाली में पदस्थ प्रधान आरक्षक जगदीश यादव, अमृत प्रजापति को लाईन अटैच कर दिया है.

विधायक ने सौंपा एक लाख का चेक

सारंगपुर विधायक श्री गौतम टेटवाल ने आज मृतक के परिजनों को मुख्यमंत्री सहायता कोष से एक लाख रुपये का चेक सौंपा. इस दौरान मृतक के परिजनों एवं समाज बंधुओं ने विधायक से भी कहा कि दोषी पुलिसकर्मियों के विरुद्ध हत्या का प्रकरण दर्ज होना चाहिये. विधायक श्री टेटवाल ने विश्वास दिलाया कि दलित वर्ग के साथ हुई इस घटना से वे स्वयं भी दु:खी है और समूचे मामले से मुख्यमंत्री को अवगत करायेंगे.

मृतक युवक के पिता श्री बद्रीलाल जाटव ने आज जिला कलेक्टर श्री ओझा को आवेदन देते हुए एक बार पुन: मांग की है कि उनके पुत्र की पुलिसकर्मियों ने हत्या की है, इसलिये उनके विरुद्ध हत्या का प्रकरण दर्ज किया जाये. इस आवेदन में श्री जाटव ने राजू भैया नामक एक व्यक्ति एवं उपनिरीक्षक अमृता सौलंकी का स्पष्टï तौर पर जिक्र किया गया है. उनका कहना है कि इन दोनों के साथ 17 जुलाई की रात कुछ अन्य पुलिसकर्मियों ने घर पर आकर मेरे पुत्र को अगुवा किया था. उधर पुलिस के अधिकारी यह बात कहने से बच रहे है कि एन्टी गुण्डा स्क्वाड टीम में राजू भैया नामक कोई पुलिसकर्मी तैनात है. बताया जाता है कि उक्त व्यक्ति अनाधिकृत तौर उक्त टीम के मुखिया की भांति अपना रोल अदा कर रहा था.

Related Posts: