India vs Englandधर्मशाला,27 जनवरी. टिम ब्रेसनन और इयान बेल ने अपने कौशल का अद्भुत नजारा पेश करके इंग्लैंड को रविवार को भारत के खिलाफ पांचवें और अंतिम वनडे मुकाबले में सात विकेट से जीत दिला दी. भारत पांच मैचों की सीरीज पहले ही अपने नाम कर चुका था, लेकिन इंग्लैंड हार का अंतर 3-2 करने में सफल रहा.

पहले बल्लेबाजी का न्योता पाने वाले भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही और उसके पांच विकेट 79 रन पर उखड़ गये. सुरेश रैना ने 83 रन की जुझारू पारी खेली. निचले क्रम में रवींद्र जडेजा (39) और भुवनेश्वर कुमार (31) ने उपयोगी योगदान दिया, लेकिन भारतीय टीम 49.4 ओवर में 226 रन पर बनाकर आउट हुई. ब्रेसनन ने 45 रन देकर चार विकेट लिये. जेम्स ट्रेडवेल और स्टीवन फिन को दो-दो विकेट मिले.

बेल ने इसके बाद सीरीज का एकमात्र शतक जमाया. वह 143 गेंदों पर 13 चौकों और एक छक्के की मदद से 113 रन बनाकर नाबाद रहे. उन्होंने इस बीच जोए रूट (31) के साथ तीसरे विकेट के लिये 79 और इयोन मोर्गन (नाबाद 40) के साथ चौथे विकेट के लिये 84 रन की अटूट साझेदारी की. इंग्लैंड ने 47.2 ओवर में तीन विकेट पर 227 रन बनाए. इंग्लैंड की इस जीत से आईसीसी वनडे रैंकिंग में भारत के समान 119 अंक हो गये हैं, लेकिन दशमलव में गणना करने पर भारत अब भी आगे है और इस तरह से वह नंबर एक पर काबिज रहेगा.

बेल ने एलिस्टर कुक (22) के साथ पहले विकेट के लिये 53 रन जोड़कर इंग्लैंड को अच्छी शुरुआत दिलायी. भुवनेश्वर और शमी अहमद पिछले मैचों की तरह इन दोनों को शुरू में अधिक परेशान नहीं कर पाए. पहले बदलाव के रूप में आये ईशांत शर्मा ने प्रभावशाली गेंदबाजी की. उन्होंने अपने पहले स्पैल में पांच ओवर में नौ रन दिये और कुक का मिडिल स्टंप उखाड़ा. शमी ने अपने दूसरे स्पैल में भारत को केविन पीटरसन (छह) का कीमती विकेट दिलाया जो शॉर्ट पिच गेंद को पुल करके सीमा रेखा पार पहुंचाने के प्रयास में मिडविकेट पर जडेजा को कैच दे बैठे थे.

बेल और रूट ने सहजता से रन बटोरने की रणनीति अपनायी. महेंद्र सिंह धौनी ने सीरीज में दूसरी बार युवराज सिंह को भी गेंद सौंपी, लेकिन रूट ने उनके पहले ओवर में दो चौके जड़कर भारतीय कप्तान को रणनीति बदलने के लिये मजबूर कर दिया. भारत के दोनों स्पिनर आर अश्विन और जडेजा ने बीच के ओवरों में किफायती गेंदबाजी की. इस बीच जडेजा ने रूट का विकेट उखाड़ा, लेकिन बेल और मोर्गन ने इंग्लैंड को परेशानी में नहीं पडऩे दिया. बेल ने 96वां रन लेते ही वनडे में 4,000 रन पूरे किये. उन्होंने ईशांत के इसी ओवर में फुलटॉस पर चौका जड़कर इस सीरीज का पहला शतक पूरा किया. जब रनों और गेंदों के बीच अंतर बढ़ रहा था तब मोर्गन ने अश्विन और शमी पर छक्के जड़कर इंग्लैंड की जीत सुनिश्चित की.

Score Board

Related Posts: