16 विदेशी प्रतिनिधियों ने जानी हकीकत, निवेशक सम्मेलन की कड़ी में हुई मुलाकात

भोपाल, 21 फरवरी. राजधानी में चल रहे इंजीनियरिंग एण्ड ऑटो एक्सपो-2012 के तहत आज शाम विदेशी कंपनियों के साथ यहाँ हुई मुलाकात में राज्य सरकार की तरफ से उन्हें निवेश का न्यौता भी दिया गया.

इसके लिये उन्हें मध्यप्रदेश में औद्योगीकरण के लिये हाल ही के वर्षों में लाई गई तेजी, इसके मकसद और निवेश को लेकर मध्यप्रदेश की मेजबानी के सभी इंतजामों को लेकर सिरे से परिचित करवाया गया. इस मौके पर प्रमुख सचिव उद्योग श्री पी. के. दाश और ट्रॉयफेक के प्रबंध संचालक प्रमोद दास के साथ ही सीसीसीआय के चेयरमेन विपिन मलिक भी इन 16 विदेशी कंपनियों से मुखातिब हुए. यह मुलाकात मध्यप्रदेश में हुए ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट की कड़ी में हुई थी. निवेश की बात बढ़ाने का मौका-प्रमुख सचिव उद्योग  पी.के. दाश ने शुरूआत में ही यह बात साफ की कि निवेशकों से मुलाकात का सिलसिला लगातार जारी रखा जायेगा. उन्होंने इस दृष्टि से मल्टी-सेक्टर प्रदर्शनियों के लिये भोपाल, इंदौर तथा पर्यटन क्षेत्र में जबलपुर के उपयुक्त स्थान होने की जानकारी दी. उनका कहना था कि स्थानीय उत्पादों के लिये बाजार तलाशने के उद्देश्य से बायर-सेलर को एक दूसरे के पास लाने की कोशिश एक्सपो के जरिये की गई है.प्रमुख सचिव दाश ने कहा कि मध्यप्रदेश में निवेश की ढेर सारी सम्भावनाएँ अब प्रबल हो चुकी हैं. सरकार यहाँ रोजगार के लिये दक्ष मानव-संसाधन भी उपलब्ध करवा रही है. रोजगार के अवसर बढ़ाने के लिये भी निवेशकों को हर-संभव सहयोग की पेशकश की गई है. उन्होंने कहा कि इसी परिप्रेक्ष्य में लघु, मध्यम और बड़े देशी-विदेशी उद्यमियों को स्वतंत्र रूप से और संयुक्त भागीदारी में प्रदेश में उद्योग लगाने का न्यौता दिया जा रहा है.

दाश ने बताया कि भोपाल और इसके आस-पास कोई 2 हजार एकड़ जमीन ली जा चुकी है. आने वाले कुछ महीनों में इसका विकास कर उद्योग लगाने का एक और रास्ता खोल दिया जायेगा. उन्होंने स्थानीय उद्यमियों से भी बड़ी योजनाएँ बना कर काम शुरू करने का आव्हान किया. उन्होंने यह आश्वासन भी दिया कि इन उद्यमियों को सरकार देश के बड़े शहरों और बाहर तक होने वाली प्रदर्शनियों में ले जाने में मददगार बनेगी. उन्होंने एक्सपो में भोपाल और पड़ौसी जिलों की उत्साहवर्धक भागदारी को इस दिशा में अत्यंत महत्वपूर्ण पहल बताया. ट्रायफेक के प्रबंधक संचालक प्रमोद दास ने इस मौके पर एक प्रजेंटेशन के जरिये मध्यप्रदेश में औद्योगिक निवेश की संभावनाओं को उकेरा. उन्होंने कहा कि पिछले दो अंतर्राष्ट्रीय निवेशक सम्मेलनों में भारी कामयाबी प्रदेश को हासिल हुई है. इसके चलते अगले पाँच वर्षों में 11 हजार करोड़ रूपयों के निवेश की रणनीति पर काम शुरू हो चुका है. राज्य सरकार ऑटो और ऑटो कंपोनेंट्स के निर्माण में और इजाफा करने जा रही है. इसके लिए पीथमपुर में 400 एकड़ जमीन विकसित करने की तैयारी है. उन्होंने यह भी कहा कि उद्योगों के लिये प्रदेश में बने दोस्ताना माहौल के नतीजे में ही टीसीएस और इंफोसिस जैसी आईटी कंपनियाँ भी अपनी यहाँ आमद दर्ज करा चुकी हैं. उन्होंने राज्य सरकार के आकर्षक प्रोत्साहन पैकेज, सिंगल-विण्डो क्लीयरेंस सिस्टम आदि की विस्तृत समझाइश भी दी. दास का कहना था कि अधोसंरचना और राज्य-मार्गों के उन्नयन में भी निवेश की संभावनाएँ बढ़ गई हैं. उन्होंने अक्टूबर में होने वाले अंतर्राष्ट्रीय निवेश सम्मेलन में इन कंपनियों के खरीददारों को भी न्यौता.

 

  • उद्यमियों ने की निवेश की वकालत

इस मुलाकात की बड़ी उपलब्धि प्रसिद्ध औद्योगिक घरानों द्वारा मध्यप्रदेश में किये गये निवेश और यहाँ सरकार से मिली सुविधाओं को लेकर विदेशी खरीदारों के साथ उनकी वकालत भी बनी. रिलायंस कंपनी के शेखर सिंह ने बताया कि मुख्यमंत्री श्री चौहान की पहल और राज्य सरकार की उदार नीतियों के चलते इस कंपनी ने अपने कई औद्योगिक निर्माण तय वक्त के पहले शुरू कर दिये हैं. कोई 20 हजार करोड़ के उद्योगों में 11 हजार लोगों को रोजगार सुनिश्चित होना है. दौलतराम औद्योगिक समूह के पुल्कित शर्मा ने कहा कि पहले इस प्रदेश को औद्योगीकरण के उद्देश्य से उभारा ही नहीं गया था. बीते 5-6 वर्षों में इस बात का अहसास होने पर उनके उद्योग समूह ने भी यहाँ काम के लिए अपनी आमद दर्ज करवाई. सी.सी.सी.आय के चेयरमेन श्री विपिन मलिक ने कहा कि प्रदेश में औद्योगीकरण की दिशा में मुस्तैदी और सक्षमता से योजनाओं पर अमल शुरू किया गया है. उन्होंने यह भी कहा कि सरकार इसके साथ ही सामाजिक, महिला एवं बाल विकास और दक्षता संवर्धन में भी तेजी से सक्रिय दिखी है.

  • इंजीनियरिंग एण्ड ऑटो एक्सपो का आज समापन

राजधानी में आयोजित इंजीनियरिंग एण्ड ऑटो एक्सपों का तीन दिवसीय आयोजन 22 फरवरी को सम्पन्न हो जायेगा. उद्योग मंत्री कैलाश विजयवर्गीय दोपहर 12 बजे गोविंदपुरा स्थित इंडस्ट्रीज ऐसोसियेशन काम्प्लेक्स परिसर में इस मौके पर मुख्य अतिथि होंगे.

Related Posts: