हैदराबाद, 14 अक्टूबर. इंडियन प्रीमियर लीग ख् आईपीएल, का पांचवां चरण अगले साल चार अप्रैल से 27 मई तक आयोजित होगा जिसका शुरुआती मैच चेन्नई में खेला जाएगा.

आईपीएल की संचालन परिषद ने बैठक के बाद फैसला किया कि खिलाडिय़ों के संबंध में बातचीत जैसे पाकिस्तानी खिलाडिय़ों की हिस्सेदारी और नीलामी की रूपरेखा के बारे में अगली बैठक में चर्चा की जाएगी जिसकी तारीख की घोषणा अभी नहीं की गई है. बीसीसीआई सचिव संजय जगदाले ने कहा डीएलएफ आईपीएल 2012 की तारीख की पुष्टि हो गई थी. टूर्नामेंट चार अप्रैल 2012 से चेन्नई में शुरू होगा और 27 मई 2012 को खत्म होगा. उद्घाटन समारोह तीन अप्रैल को चेन्नई में किया जाएगा जो शुरुआती मैच से एक दिन पहले होगा. जगदाले के अनुसार, खिलाडिय़ों का विनियमन और नीलामी की रूपरेखा पर संचालन परिषद की अगली बैठक में चर्चा की जाएगी. टूर्नामेंट के प्रारूप के बारे में संचालन परिषद ने प्रबंधन दल से विकल्प ढूंढने के लिए कहा है. संचालन परिषद की बैठक आईपीएल के नए अध्यक्ष राजीव शुक्ला की अगुवाई में हुई जिसमें आगामी आईपीएल सत्र के लिए विभिन्न परिचालन संबंधित कार्यों को मंजूरी दी गई.

पाक गेंदबाजों में 20 विकेट झटकने की क्षमता: मिस्बाह

लाहौर. पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के कप्तान मिस्बाह.उल.हक का कहना है कि श्रीलंका के साथ खेली जाने वाली आगामी श्रृंखला में उनके गेंदबाजों के पास टेस्ट मैच की दोनों पारियों में विपक्षी टीम को ऑलआउट करने की पूरी क्षमता है. समाचार पत्र द ने मिस्बाह के हवाले से लिखा है कि मध्यम गति के गेंदबाज वहाब रियाज और स्पिनर अब्दुल रहमान की वापसी से टीम को मजबूती मिली है. एजाज चीमा और सईद अजमल का प्रदर्शन भी सराहनीय रहा है. इसलिए मैं कह सकता हूं कि पाकिस्तानी गेंदबाजी में विपक्षी टीम के एक टेस्ट मैच में कुल 20 विकेट झटकने की क्षमता है.

पाकिस्तान और श्रीलंका के बीच तीन टेस्ट मैचए पांच एकदिवसीय मैचों की श्रृंखला और एक ट्वेंटी.20 मैच खेला जाएगा. ये सभी मुकाबले तटस्थ स्थल संयुक्त अरब अमीरात,में खेले जाएंगे. पहला टेस्ट मैच 18.22 अक्टूबर तक अबूधाबी में खेला जाएगा. पत्र के मुताबिक मिस्बाह ने कहा कि कुछ वरिष्ठ खिलाडिय़ों के नहीं होने के बावजूद टीम में अच्छा संयोजन है. स्पिन गेंदबाज हमारी मजबूती हैं. मुझे आशा है कि विकेट स्पिन गेंदबाजों को मदद करेगी और इन टेस्ट मैचों में परिणाम निकलेंगे. हम मैच जीतकर टेस्ट रैंकिंग में सुधार करना चाहते हैं. मिस्बाह ने स्वीकार किया कि महान स्पिन गेंदबाज मुथैया मुरलीधरन और मध्यम गति के गेंदबाज लसित मलिंगा के संन्यास लेने के बाद श्रीलंकाई गेंदबाजी आक्रमण कमजोर हुई है लेकिन उनका कहना है कि विपक्षी टीम अब भी खतरनाक है और वह उसे हल्के में आंकने की भूल कतई नहीं करेंगे.

Related Posts: