भोपाल, 30 मार्च.कस्तूरबा नगर की बेशकीमती भूमि पर कबाडिय़ों ने कई वर्षों से अवैध कब्जा कर रखा है. वेयर हाउसिंग कार्पोरेशन के ठीक पीछे कबाडिय़ों द्वारा दिनों दिन झुग्गियों की संख्या को बढ़ाया जा रहा है. इनमें से कई तो सड़क के किनारे सरकारी भूमि पर बनी है.

वार्ड क्र. 56 के अंतर्गत आने वाली कस्तूरबा नगर कालोनी एक पोश कालोनी में गिनी जाती है. कालोनी के खाली प्लाटों पर कबाडिय़ों एवं कचरा बीनने वालों द्वारा वर्षो से कब्जा है. इस अवैध कब्जे के कारण क्षेत्र में संचालित कई गल्र्स होस्टेल, प्राईवेट कंपनी एवं क्षेत्रीय रहवासियों को खासी परेशानियों का सामना करना पड़ता है. झुग्गियों की दिनों-दिन बढ़ती संख्या के कारण गौतम नगर कस्तूरबा नगर एवं चेतक ब्रिज को जोडऩे वाले मार्ग के चौड़ीकरण का कार्य तथा मरम्मत भी नहीं हो पा रही है. क्षेत्रीय पार्षद एवं विधायक की उपेक्षा का नतीजा है कि आसपास स्थित कई सरकारी आफीसों के पास असामाजिक तत्वों का जमावड़ा लगा रहता है.

वहीं दूसरी तरफ लोगों को बीच मार्ग में पड़ी गंदगी की वजह से आवागमन में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है. कब्जा कर अवैधानिक रूप से रह रहे लोगों द्वारा सड़क पर नहाना, मलमूत्र करना व कड़े धोने से चौबीसों घंटे सड़क पर पानी जमा रहने के कारण हमेशा परेशान रहते है. यहाँ रह रहे झुग्गी-झोपड़ी में निवास करने वाले लोगों द्वारा बिजली के तारों से डाइरेक्ट अवैध बिजली ली जाती है. जिससे यहाँ से निकलने वाले वाहन पर किसी भी तरह की दुर्घटना का अंदेशा बन रहता है.यहाँ दारूखोरों द्वारा के रोजाना रहवासियों  साथ गाली-गलौज मारपीट,  तथा दंगा फसाद करते हैं इस बात को लेकर स्थानिय रहवाशियों में रोष व्याप्त है.

इस कारण पूर्व में भी कई बार दुर्घटनाएं हो चुकी है. यहाँ आने जाने वाले लोगों पर इनके पालतू कुत्तों द्वारा काटने पर दुर्घटनाएं होना आम बात है. इस बारे में गत 10 वर्षो से लगातार शासन, प्रशासन को सूचना तथा आवेदन दिए जा रहे है परंतु आज तक कोई कार्यवाही नहीं की गई. क्षेत्रीय निवासी शीघ्र ही मुख्यमंत्री विधायक समेत सभी संबंधित विभागों का फिर से ज्ञापन देने जा रहे हैं.

Related Posts: