पुलिस चोरों को पकड़ पाने में नाकाम मंदिरों से भी हार, मुकुट पर हाथ साफ  किये है चोरों ने

बैरागढ़, 5 जुलाई (संवाददाता) बैरागढ जोन क्षेत्र के खजूरी थाना क्षेत्र में वाहन चोर व मंदिरो से हार, मुकुटो को साफ करने वाला चोर सक्रिय है. लेकिन चोरों को पकड पाने में स्थानीय पुलिस अधिकतर नाकाम साबित हुई है.

मंगलवार की मध्य रात्रि को भी परवलिया थाना क्षेत्र में भी वाहन चोर वाहनो को चुराकर ले जा रहे थे लेकिन लोगो के जाग उठने से गाडियां छोड भागे हैं उधर वाहन चोरो को पकडने में जुट गई है. थाना प्रभारी नीरज वर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि है कि पुलिस कि गश्त जारी है हम चोरो को जल्द ही दबोच लेगे ताकि जो घटनाएं हो रही है उन पर लगाम कसा जा सके उधर खजूरी थाना क्षेत्र पिपरिया धाकड गांव में राम मंदिर से अज्ञात चोर भगवान के मुकुट पर हाथ साफ कर गये थे जबकि पिछले दिनो उसी थाना क्षेत्र में एक रामचरण की प्लेटिना मोटर साइकिल भी ले गए और उनका टेऊक्टर भी चुरा ले गए. कुछ ही दिन पूर्व बद्री प्रसाद मेवाडा की दो भैसे रात्रि के समय चोरी की जा चुकी है.

रात्रि पुलिस की गश्त कमजोर होने के कारण चोर इस तरह की वारदातो को अंजाम दे रहे है. पुलिस का कहना है कि पुलिस सरगर्मी से इस तरह की चोरों को पकडने में जुटी हुई है पुलिस की गश्त तेज कर दी गई है. उधर बैरागढ एसडीओपी शशिकांत शुक्ला ने भी बताया कि वे इस तरह की घटनाओं से इंकार नहंी करते लेकिन हम अज्ञात चोरो को पकडने में जुटे हुए है ताकि ग्रामीण क्षेत्र में हो रही घटनाओ को रोका जा सके और चोरो को दंडित कराया जा सके. उल्लेखनीय है कि ग्राम चंदूखेडी से भी कुछ माह पूर्व एक पटेल का ट्रेक्टर  जो कि कुछ ही दिन पूर्व शोरुम से खरीदा था ताकि वह कृषि का कार्य कर सके लेकिन उसके टेऊक्टर को चोर ले जाने में सफल हो गए. लेकिन आज तक अज्ञात चोरो का पुलिस पता नहीं लगा पाई. रात्रि में बिजली न मिलने से घोर अंधेरे में डूब जाते है गांव और वारदाताओं को अंजाम देते है चोर.जानकारी के अनुसार परवलिया क्षेत्र के कई गांव इन दिनों घोर अंधेरे में डूबे रहते है.

इसका कारण बिजली न मिलना है और अज्ञात चोर गंावो में सक्रिय हे जाते हैं प्राप्त जानकारी के अनुसार परवलिया सडक विधुत उपकेन्द्र के कई गांवो में रात्रि 9 बजे से 3 बजे तक बिजली कटौत्री की जा रही है. इस वजह से ग्रामीण कृषि में कार्य करने से थके रहते है और बिजली के आने के बाद आराम करते है. और इसी दौरान अज्ञात चोर गांवो में वाहन चोर अन्य घटनाओं को अंजाम देते रहते है लेकिन न तो विधुत वितरण कंपनी को इसकी चिंता है न ही पुलिस प्रशासन को.

Related Posts: