अपनी सफलता का श्रेय प्रथम माता-पिता, फिल्मों के डायरेक्टरों को

भोपाल, 13 अक्टूबर. शाहरुख खान आज अपनी फिल्म का प्रमोशन करने के लिए दोपहर 2.30 बजे राजधानी पहुचें. वे जयपुर से भोपाल पहुंचें उनके यहां के कार्यक्रम करीब ढ़ाई से तीन घण्टे लेट शुरु हो सके. भोपाला में उनको देखने के लिए आम प्रशंसको में जबरदस्त उत्साह देखा गया. शापिंग मॉल के अंदर जितनी भीड़ थी उससे कहीं ज्यादा तो सड़कों पर प्रशसंक जमा थे.

… वेलकम किंग खान
बादलों को चीरती किंग खान शाहरूख की फ्लाइट गुरुवार दोपहर 2.30 बजे झीलों की नगरी भोपाल की धरती पर लैंड कर गई. सुबह से इंतजार कर रहे उनके प्रशंसकों ने जैसे ही उनके भोपाल आने की खबर सुनी वे वेलकम शाहरूख… वेलकम किंग खान के नारे लगाने लगे.उमड़े जनसैलाब में उत्साह का संचार हुआ और हलचल शुरू हो गई. फिल्म स्टार शाहरूख खान को देखने के लिए उनके प्रशंसकों में काफी उत्साह था. सुबह से ही युवक-युवतियों सहित उनके प्रशंसकों का जमावड़ा लगा हुआ है, ऐसा  पुलिस को हालात संभालने के लिए मशक्कत करनी पडी़. इस दौरान सड़कों से गुजर रहे वाहनों में बैठे लोगों की निगाहें शाहरूख को खोजती रही.उनकी एक झलक पाने के लिए वे अपने वाहनों की छत पर खड़े होकर शाहरूख की एक झलक पाना चाहते थें.

कटे-फटे कपड़े पहनकर मेहनत से करता हूं मजदूरी
‘मैं मजदूर हूं दिन-रात कड़ी मेहनत करता हूं, क्योंकि बिना मेहनत किये आदमी सफलता नहीं पा सकता है. देखिये मैं कटे-फटे कपड़े पहन कर आपके सामने आया हूं. मगर लोग इसे भी फैशन समझ लेते हैं. उक्त बात प्रसिद्ध फिल्म अभिनेता शाहरुख खान ने गुरुवार को पत्रकारों से बातचीत के दौरान कही. शाहरुख खान यहां फिल्म रा-वन की लांचिंग पर आये हुये थे. उन्होंने इस फिल्म की कहानी को बड़ी रोचक बताया है. फिल्म पर कटाक्ष और व्यंग्य का संगम करीना कपूर ने बखूबी बयान किया. इसके अलावा रावण की दुष्ट छबि का प्रवेश दर्शकों के दिल को छूने वाला दृश्य नजर आया. फिल्म में हंसी-मजाक, बुराई का अंत तथा विशेषकर बच्चों को आधुनिक परिवेश की शिक्षा का स्वरूप बखूबी फिल्माया गया है. शाहरुख ने बताया कि फिल्म में पूर्ण रूप से इंडिया की टेक्नोलॉजी का उपयोग किया गया है. इस फिल्म में अभिनेत्री करीना कपूर द्वारा पुरुष पर कटाक्ष और व्यंग्य करते हुये कहा गया कि तेरी मां और तेरी बहन के लिये मात्र लोग स्त्री के लिये शब्दों का क्यों उच्चारण करते हैं.

क्यों नहीं तेरे मां और तेरे बहन के करते हैं? इस दृश्य पर एक महिला पत्रकार ने अपशब्द महिलाओं के इस्तेमाल करने जैसी बात ध्यान में लाते हुये सवाल किया, तो शाहरुख ने जवाब दिया कि महिला के अपशब्द नहीं बल्कि एक महिला की दिल की अंदरूनी भावना को दिखाया गया है. नवभारत संवाददाता ने पूछा कि आप संघर्ष के दिनों से अभी तक सफलता के शिखर पर पहुंचने का श्रेय किसे देते हैं? शाहरुख ने कहा कि मैं अपनी सफलता का श्रेय सर्वप्रथम माता-पिता और उन सभी फिल्मी डायरेक्टर्स को देना चाहूंगा जिन्होंने मुझे फिल्म में काम करने का मौका मुहैया कराया. अगला सवाल कि रा-वन फिल्म देश और विदेश में एक साथ कितने शहरों में रिलीज हो रही है?

इस पर शाहरुख ने बताया कि मेरी जानकारी के मुताबिक तीन हजर 200 शहरों में रिलीज हो रही है. रा-वन फिल्म की शूटिंग के दौरान कठिन परिश्रम के बारे में बताया कि सूट पहने मैं और उडऩे के दृश्य फिल्माते वक्त मुझे काफी परेशानी महसूस होती थी. क्योंकि शूट चार से पांच लड़कियां पहनाती थीं जिससे मुझे उनकी अंगूलियों से गुदगुदी हुआ करती थी. शूट पहनने में कम से कम ढाई घंटे और पूरी पौशाक रॉ-वन की धारण करने में 8 घंटे लगते थे. इसके अलावा पैरों में 18 किलो वजनी जूते पहन कर शूटिंग करते समय काफी तकलीफ होती थी. शाहरुख ने कहा कि मैंने भोपाल के तालाब की तारीफ सुनी है, जिसे देखना चाहूंगा, जब भी समय मिलेगा. उन्होंने अपनी अगली फिल्म के लिये शहर में शूटिंग करने की बात का टाल-मटोल जवाब दिया.

  •  लाठीचार्ज हुआ

शाहरुख खान को देखने आए हजारों युवक, युवतियों और आम जनता के शैलाब को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने कई बार लाठीचार्ज किया.
लोगों के वाहन हुए क्षतिग्रस्त शॉपिंग मॉल और माल के सामने एम.पी. नगर चौराहे पर खड़े दो पहिया और चार पहिया वाहनों को भीड़ ने काफी नुकसान पहुँचाया. कई चार पहिया वाहनों के ऊपर युवा लड़के चढ़कर माल के गेट पर लगा डिस्प्ले बोर्ड पर शाहरुख को देखते नजर आए. इससे कई कारों की छत और बोनट पिचक गए. साथ ही कुछ कारों के कांच टूट फट गए. वहीं दोपहिया वाहनों के सीट कवर फट गए किसी का क्लच टूटा तो किसी की हेडलाइट.

-: झलकियां :-

पत्रकार वार्ता स्थल पर मीडिया के लोगों के अलावा आम युवती एवं युवक प्रवेश पा गए. इस वार्ता के दौरान पत्रकारों को अभिनेता शाहरुख के सवाल जवाब करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ा. पत्रकारों से बातचीत के दौरान युवतियों ने शाहरुख से गले लगने, तो किसी युवती ने छू लेने की इच्छा प्रकट की खासकर पत्रकारों को बातचीत में विघ्न पैदा किया. शाहरुख ने पत्रकार वार्ता के दौरान उपस्थित आम युवती की जिज्ञासा शांत करने के लिये उसे गले लगा लिया. आयोजन द्वारा पत्रकारों का सादर आमंत्रित किया गया किंतु प्रवेश द्वार पर सुरक्षा गार्ड ने उनके आमंत्रण पत्र पर कोई तवज्जो नहीं दी. ऐसा ही व्यवहार थियेटर में प्रवेश लेने के दौरान कुछ मीडिया साथी भागते नजर आए.

  •  आवागमन हुआ बाधित

अभिनेता शाहरुख को देखने आई भीड़ के कारण एम.पी. नगर क्षेत्र के सभी चौराहों एवं मार्ग पर आवागमन बाधित हुआ. इसके अलावा करीब 12 बजे से जाम जैसी स्थिति निर्मित हो गई. जिससे लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा है.

  •  इमारत पर बैठे नजर दर्शक

शाहरुख को देखने के लिये अनेक दर्शक शापिंग मॉल के सामने एम.पी. नगर की इमारतों की सबसे ऊपर की छत और होर्डिंग्स पर खड़े और बैठे नजर आए.

  •  मॉल के अन्दर भी भीड़ की कमी नहीं

शॉपिंग मॉल के अन्दर हजारों की तादात के युवा-युवतियों का हुजूम नजर आया यह सब शाखरुख को एक नजर देखने के लिये इधर-उधर भटकते दिखाई पड़े. इनमें से कुछ ही को शाहरुख को देखने का मौका मिला. अभिनेता शाहरुख खान ने मंच पर नृत्य प्रस्तुत किया. वहाँ उपस्थित जन शैलाब ने शाहरुख का तालियां बजाकर  स्वागत किया. कुछ युवा और युवतियां गाने की धुन नाचते झूमते नजर आयी.

Related Posts: