बेंगलूर, 1 अक्टूबर. कोलकाता नाइटराइडर्स (केकेआर) बर्षा से बाधित तीसरे चैंपियंस लीग ट्वंटी-20 टूर्नामेंट के 13वें मुकाबले में दक्षिण अफ्रीकी टीम वारियर्स पर डकवर्थ लुइस नियम के आधार पर 22 रन से जीत हासिल करने में सफल रहा. इस जीत से उसकी सेमीफाइनल में पहुंचने की दावेदारी भी बची हुई है.

लगातार बारिश के बाद आउटफील्ड गीली रहने के कारण मैच निर्धारित समय से 20 मिनट की देरी से शुरू हुआ. एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में हुए मुकाबले में कोलिन इंग्राम (61) के अर्धशतक की बदौलत वारियर्स ने पहले खेलते हुए 20 ओवर में चार विकेट पर 155 रन बना लिए. इंग्राम के अलावा जेजे स्मट 46 रन 43 गेंदए 6 चौका, और मार्क बाउचर 38 रन 27 गेंद 5 चौका, ने भी उपयोगी पारी खेली. बालाजी ने 35 रन देकर दो विकेट लिए.

जवाब में बारिश से बाधित पारी में कोलकाता ने नौ ओवर में एक विकेट पर 83 रन बनाए. गंभीर ने 23 गेंदों में तीन चौके व एक छक्के के साथ नाबाद 33 रन और कालिस ने 19 गेंदों पर तीन चौके व एक छक्के के साथ नाबाद 31 रनों का योगदान दिया.  डकवर्थ लुइस नियम के आधार पर कोलकाता को नौ ओवर में 62 रन बनाने थे और इस लक्ष्य को केकेआर ने पहले ही पार कर लिया था. जिससे केकेआर को लगातार दूसरी जीत मिल गई.

कोलकाता को टूर्नामेंट में बने रहने के लिए अपने अंतिम लीग मैच को जीतना जरूरी था. इस दूसरी जीत से कोलकाता चार अंक के साथ अपने ग्रुप में दूसरे स्थान पर आ गया है और सेमीफाइनल के लिए वह अभी भी रेस में है. वहीं वारियर्स दो जीत व एक हार 4 अंक, के साथ ग्रुप-बी में शीर्ष पर बना हुआ है. इससे पूर्व इसी मैदान पर दक्षिण आस्ट्रेलिया और समरसेट के बीच मुकाबला होना था लेकिन टास होने के बाद एक भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी और मैच को रद कर दिया गया.

लक्ष्य का पीछा करने उतरे कोलकाता को सधी हुई शुरुआत मिली. बिसला और कालिस ने पहले विकेट के लिए 35 रन जोड़े. इस साझेदारी में बिसला का ही ज्यादा योगदान रहा. बिसला ने दो चौका व एक छक्का लगाने के बाद वायने पार्नेल की गेंद पर विकेट के पीछे लपके गए. पार्नेल ने 12 गेंदों में दो चौके व एक छक्के के साथ 19 रन बनाए. इसके बाद कालिस को कप्तान गंभीर का बेहतरीन साथ मिला. दोनों बल्लेबाजों ने पिछले मैच में कोलकाता की जीत में अहम भूमिका निभाई थी. दोनों ने पिछली पारी को आज भी जारी रखते हुए आतिशी बल्लेबाजी की. कालिस और गंभीर ने तीन-तीन छक्के भी जमाए. इन दोनों ने 5.3 ओवर में 48 रनों की अविजित साझेदारी की. कोलकाता को जीत के लिए 71 रन और चाहिए थे लेकिन इस बीच फिर से शुरू हुई बारिश के कारण आगे का खेल नहीं हो सका.



Related Posts: