नयी दिल्ली, 23 नवंबर, नससे. कांग्रेस ने मंहगाई के बारे में भाजपा के बयान की कड़ी आलोचना करते हुये आज कहा कि उसने माफिया की जुबान बोलना शुरु कर दिया है.

कांग्रेस प्रवक्ता राशिद अल्वी ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि भाजपा का यह कहना कि मंहगाई को लेकर हिंसा हो सकती है अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण और गैर जिम्मेदाराना है. उन्होंने कहा कि हमारा देश अहिंसा में विश्वास करता है ऐसे में मुख्य विपक्षी दल हिंसा फैलने की बात करके आखिर देश को किस दिशा की ओर ले जाना चाहती है. उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है कि भाजपा माफिया की जुबान बोल रही है. भाजपा पर हमला बोलने के साथ ही श्री अल्वी ने सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे को भी लपेटे में ले लिया. उन्होंने अन्ना का नाम लिये बिना कहा कि कुछ व्यक्ति लोगों को पेड में बांध कर पीटने की बात कर रहे हैं जो बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है. उन्होंने कहा कि कानून को हाथ में लेने तथा जनता को उकसाने वाले बयानों से लोकतंत्र को चोट पहुंचेगी.

और वह कमजोर होगा. उन्होंने कहा कि कोई व्यक्ति यदि कानून हाथ में लेने की बात करता है और लोगों को उकसाता है तो यह असंवैधानिक काम है. गृह मंत्री पी चिदम्बरम का बहिष्कार करने के भाजपा के फैसले को अनुचित और खेदजनक बताते हुये श्री अल्वी ने कहा कि उनके जैसे साफ सुथरे व्यक्ति के विरूद्ध माहौल बनाना सही नहीं है. उन्होंने कहा कि इस मामले को कांग्रेस द्वारा पूर्व रक्षा मंत्री जार्ज फर्नांडीस का बहिष्कार किये जाने से जोड़ा जाना ठीक नहीं है. श्री अल्वी ने कहा कि श्री फर्नांडीस ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था लेकिन जांच आयोग की रिपोर्ट आने से पहले ही उन्हें फिर से ंमंत्रिमंडल में शामिल कर लिया गया था.

Related Posts: