18 घायल, टायर फटने से हुआ हादसा

मंडला 2 नवबंर,नससे. मुख्यालय  से महज तीस पैतीस किलोमीटर दूर कालपी के समीप एक बस दुर्घटना में तीन लोगों की मौत हो गई जबकि 18 गंभीर है. यह घटना उस समय घटी जब जबलपुर से मंडला की ओर आ रही बस का कालपी-बीजाड़ाडी के समीप टायर फट गया.

घटना के बाद स्थानीय लोगों की मदद से पुलिस ने आनन-फानन में बस में फंसे यात्रियों को निकाला गया. वहीं घायलों को बीजाड़ाडी, मंडला और जबलपुर रिफर किया गया. दूसरी ओर पुलिस का यह कहना है कि इस घटना में मात्र एक व्यक्ति की ही मौत हुई है. मिली जानकारी के मुताबिक 2 नवबंर की दोपहर जबलपुर से मंडला की ओर बस क्रं.एमपी-51 पी 2531 ओव्हर लोड सवारी लेकर आ रही थी. इसी दौरान बीजाड़ांडी-कालपी के समीप तेज रफ्तार बस का अचानक टायर फट गया. टायर फट जाने से ड्रायवर का नियंत्रण बस से खो गया. बताया जा रहा है कि लहराती हुई बस सड़क किनारे पलट गई. बस के  चारों टायर उपर की ओर हो गये. बस पटलने से यात्रियों में हाहाकार मच गया. इस दुर्घटना की तेज आवाज सुन आसपास के लोग जमा हो गये.इसी दौरान पुलिस भी सूचना पाकर मौके पर पहुंच गयी.

घायलों को बामुश्किल बाहर निकाला -पुलिस ने स्थानीय लोगों से मदद से बस के यात्रियों को बामुश्किल बाहर निकाला .बताया जाता है मौके पर ही एक यात्री की मौत हो गई जबकि इस घटना पर 18 गंभीर रूप से घायल हो गये .पुलिस ने घायलों को बीजाडाड़ी मंडला जिला चिकित्सालय भेजा . चिकित्सकों ने गंभीर रूप से घायलों को मेडीकल चिकित्सालय रिफ र कर दिया.

जानकारी के मुताबिक दो अन्य यात्रियों की मौत रास्ते मे हो गई. कंट्रोल रूम का फोन किया बंद-यह बात समझ से परे हैैकि अक्सर जिला मंडला होने वाली घटना-दुर्घटना के दौरान पुलिस कंट्रोल रूम का फ ोन इंगेज कर दिया जाता है. ऐसा ही नजारा  इस बार देखने मिला .पुलिस कंट्रोल रूम से जब सम्र्पक किया गया तो पहले घटना की जानकारी ही नही दी गई और इसके बाद फोन को इंगेज कर दिया गया. पुलिस कप्तान भी बचते है जानकारी  देने से -मंडला क्षेत्र के पुलिस कप्तान अशोक गोयल भी कि सी घटना कि जानकारी देने से बचते हैै. गंभीर बात यह है कि कप्तान महोद्य़ फोन उटाने की जहमत भी नही उठाते .हां,यह जरूर हैै कि घटनाक्रम के बाद देर रात वे जानकारी देना पंसद करते है.

Related Posts: