उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों में प्रचार में जुटे राहुल गांधी ने विपक्षी पार्टी के वायदों की लिस्ट के नाम पर अपने ही नेताओं की लिस्ट फाड़ दी. हुआ यूं कि कल लखनऊ में अपनी पहली चुनावी रैली को संबोधित करते हुए राहुल ने अपनी जेब से एक कागज निकाला और उसे देखकर बसपा और सपा पर निशाना साधते हुए उनके चुनावी वायदे पढऩे लगे.

इसके बाद राहुल ने उस कागज को यह कहते हुए फाड़कर मंच से फेंक दिया कि प्रदेश वायदों से नहीं चलता. जब अपने कैमरे से ली गई तस्वीरों में उस कागज को देखा गया तो पता चला कि उस कागज पर किसी पार्टी के वायदे नहीं, बल्कि मंच पर बैठे कांग्रेस नेताओं की लिस्ट है. यानि कांग्रेस महासचिव ने दूसरी पार्टियों के वायदे की लिस्ट बताकर अपने ही नेताओं के नाम की लिस्ट फाड़ दी. बड़ी बात नहीं-उधर, प्रियंका गांधी इस घटनाक्रम पर कहा कि यदि राहुल ने घोषणा पत्र या लिस्ट फाड़ी है तो कोई बहुत बड़ी बात नहीं है.

Related Posts: