जयपुर, 21 मार्च. आर्ट ऑफ लिविंग के प्रणेता श्रीश्री रविशंकर ने कहा है कि सरकार को सरकारी स्कूल बंद कर देना चाहिए क्योंकि इन स्कूलों में पढऩे वाले बच्चे नक्सलवाद और हिंसा के रास्ते पर चले जाते हैं। 

रविशंकर ने आदर्श शिक्षा समिति के एक कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा, ‘सरकार को सरकारी स्कूलों को बंद कर देना चाहिए क्योंकि सरकारी स्कूलों में पढ़े बच्चे नक्सलवाद और हिंसा के रास्ते चले जाते हैं। निजी स्कूलों में पढ़े बच्चे संस्कारवान होते हैं। रविशंकर ने आदर्श शिक्षा समिति से अपील की कि वे नक्सलवाद प्रभावित इलाकों में स्कूल शुरू करें क्योंकि उन इलाकों में इस तरह के स्कूल पहुंच नहीं पाएंगे। उन्होंने कहा कि समिति द्वारा नक्सलवाद से ग्रस्त क्षेत्रों में स्कूल शुरू करेंगे तो बच्चे पढऩे-लिखने के साथ ही संस्कारवान बनेंगे जिसकी आज के हालात में जरूरत है।

Related Posts: