शर्मसार करने वाली घटना, हाईकमान ने मांगा इस्तीफा

बेंगलुरु, 7 फरवरी. कर्नाटक विधानसभा में एक शर्मसार कर देने वाली घटना सामने आई है. राज्य की बीजेपी सरकार के दो मंत्रियों को विधानसभा की कार्यवाही के दौरान मोबाइल पर पॉर्न फिल्म देखते पाया गया है.

कर्नाटक सरकार में बीजेपी के दो मंत्रियों सहकारिता मंत्री लक्ष्मण सवाडी और महिला व बाल कल्याण मंत्री सीसी पाटिल पर विधान परिषद की कार्यवाही के दौरान पॉर्न फिल्म देखने का आरोप है. कर्नाटक के लोकल टीवी चैनलों ने सावडी को मोबाइल पर पॉर्न फिल्म देखते दिखाया है. खबर है कि बीजेपी हाईकमान ने इन दोनों मंत्रियों को तुरंत इस्तीफा देने को कहा है.

सदन में हंगामेदार बहस और मंत्री जी…
कर्नाटक विधान परिषद में मंगलवार दोपहर बीजापुर जिले में पाकिस्तानी झंडा फहराने को लेकर हंगामेदार बहस चल रही थी. ठीक उसी दौरान सावडी हाथ में मोबाइल पकड़े बैठे हैं और उसमें पॉर्न फिल्म चल रही है. उनके पास बैठे सीसी पाटिल भी मोबाइल पर नजरें गड़ाए हुए हैं.

और फिर विपक्ष का हंगामा
यह विडियो सामने आने के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सावडी के घर के बाहर प्रदर्शन किया. कांग्रेस ने बीजेपी के इन दोनों मंत्रियों की हरकत को शर्मनाक बताते हुए उन्हें तुरंत गिरफ्तार करने की मांग की है. उधर, कर्नाटक विधानसभा के स्पीकर के.जी बोपैय्या ने मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं. इसकी जांच डीजी इंटेलिजेंस को सौंपी गई है.

मैं तो रेव पार्टी का विडियो देख रहा था…

उधर, सवाडी ने इस पर सफाई देते हुए कहा कि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है. सवाडी के मुताबिक उन्होंने मंगलौर में रेव पार्टी की खबर के बारे में सुना था. वह उसी रेव पार्टी का विडियो देख रहे थे. उन्होंने कहा कि वह इस्तीफा नहीं देंगे.

पूरे प्रकरण का मूल

रेव पार्टी में बदल गया था संगीत समारोह

नई दिल्ली. सदानंद गौड़ा की सरकार ने सेंट मैरी द्वीप में तीन दिवसीए संगीत उत्सव का आयोजन किया. कर्नाटक की भाजपा सरकार एक बार फिर विवादों के घेरे में आ गई है.

सदानंद गौड़ा की सरकार ने सेंट मैरी द्वीप में तीन दिवसीए संगीत उत्सव का आयोजन किया. कर्नाटक सरकार का वसंत जुओक आइलैंड फेस्टिवल 2012 एक रेव पार्टी में तब्दील हो गया. फेस्टिवल में भाग ले रहे विदेशी पर्यटकों ने खुलेआम सेक्स, शराब और मादक पदार्थों का बेरोकटोक सेवन किया. इस फेस्टीवल के संदर्भ में एक वीडियो दिखाया जा रहा है. वीडियो में देखा जा सकता है कि किस प्रकार विदेशी युगलों ने सभी व्यवस्थों को धता बताकर सेक्स और मस्ती का उन्मुक्त प्रदर्शन किया. इस फेस्टीवल का आयोजन कर्नाटक राज्य पर्यटन विकास निगम ने किया था. इस फेस्टीवल का उद्देश्य राज्य में पर्यटन का विकास करना था.

Related Posts: