अब प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूरिया की जबान फिसली

भोपाल/झाबुआ, 17 नवंबर. प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कांतिलाल भूरिया की जुबान ऐसी फिसली कि उन्होंने शिवराज सरकार की दो महिला मंत्रियों को नाचनेवाली कह दिया।

भूरिया के इस बयान के बाद से प्रदेश की राजनीति में बवाल मचा हुआ है। भाजपा ने इस पर कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा कि कांग्रेस का असली चेहरा धीरे-धीरे जनता के सामने आ रहा है। झाबुआ जिले के भाबरा का नाम चंद्रशेखर आजाद नगर किए जाने पर भूरिया एक रैली में शिरकत करने पहुंचे थे। भूरिया ने कहा सरकार में शामिल दो महिला मंत्री तो नाचने वाली हैं। हालांकि, उन्होंने किसी का नाम नहीं लिया। जब सभा में इन मंत्रियों का नाम पूछा गया तो उन्होंने नाम नहीं दिया। भूरिया की जुबान से भाजपा के लिए कई ऐसे शब्द निकले जो कि आपत्तिजनक थे। उन्होंने कहा कि कांग्रेसी भाजपाइयों के बाप हैं। इतना ही नहीं, कांग्रेस अध्यक्ष यह कहने से भी नहीं चूके कि भाजपाई तो उल्लू हैं, उन्हें रात में दिखता है और दिन में छिपे बैठे रहते हैं।

भूरिया ने सभा को संबोधित करते हुए कहा मैं 16 नवंबर को आने वाला हूं, यह पता लगते ही भाजपा ने श्रेय लेने के लिए ताबड़तोड़ कार्यक्रम करवा लिया। वे कहते हैं प्रयास उन्होंने किया जबकि 1997 में तत्कालीन उपराष्ट्रपति कृष्णकांत द्वारा इच्छा जाहिर करने के बाद तत्कालीन दिग्विजयसिंह सरकार ने प्रस्ताव बनाकर भाजपा की केंद्र सरकार को दिया था वहां प्रस्ताव उठाकर फेंक दिया था, अब श्रेय लेने आ रहे हैं। केंद्र की यूपीए सरकार ने भाबरा का नाम चंद्रशेखर आजाद नगर करने को गजट नोटिफिकेशन किया है। भूरिया ने कहा हमारे आदिवासी भाई भाजपा के कार्यक्रम में नहीं आए तो प्रशासन पर दबाव डालकर छात्रावास में पढऩे वाले बच्चों को उठा लाए। उन्हें भूखे-प्यासे यहां घंटों बैठाए रखा। क्या यही भाजपा का राजनीति करने का तरीका है। भूरिया के बयानों का जवाब देते हुए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष प्रभात झा ने कहा कि भूरिया ने जो बोला है, उस पर मुझे शर्म आती है। इस पर प्रतिक्रिया देना भी मुझे उचित नहीं लगता है।

Related Posts: