• एमपी माइनॉरिटी फोरम ने दिया ज्ञापन

भोपाल, 15 नवंबर, नभासं. एमपी माईनॉरिटी फोरम ने मध्यप्रदेश में मुस्लिम समाज की स्थिति को अत्यंत पिछड़ी हुई बताते हुये इस समाज के शैक्षणिक, आर्थिक एवं सामाजिक स्तर को बढ़ाने के लिये सार्थक प्रयास करने की मांग मुख्यमंत्री से की है.

फोरम के अध्यक्ष सैयद साजिद अली ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को ज्ञापन प्रेषित किया है, जिसमें कहा गया है कि मध्यप्रदेश में मुस्लिम समाज लगभग 8 प्रतिशत निवास करता है, किन्तु अत्यंत दुख का विषय है कि समाज की हालत सबसे अधिक पिछड़ी हुई है और मुस्लिम समाज के लोग अत्यंत शोषित, पीडि़त एवं दरिद्र स्थिति में जीवन व्यतीत कर रहे हैं. एक स्वस्थ समाज एवं अच्छे शासक का यह कर्तव्य है कि मुसलमानों की मूलभूत समस्याओं का निदान करें. साजिद अली ने सच्चर कमेटी की सिफारिशें लागू करने, नौकरी में पांच प्रतिशत आरक्षण देने सहित 13 मांगों पर शीघ्र निर्णय लेने का अनुरोध मुख्यमंत्री को प्रेषित ज्ञापन में किया है.

फोरम की अन्य प्रमुख मांगों में भोपाल एवं इंदौर में हज हाउस का निर्माण शीघ्र करवाया जाये, पूरे प्रदेश में इमाम-मोअज्जिनों को मा. सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय अनुसार वेतन का भुगतान राज्य सरकार द्वारा किया जाये, प्रदेश में अल्पसंख्यकों को समस्त विभागों में कम से कम 5 प्रतिशत आरक्षण नौकरियों में दिया जाये. मध्यप्रदेश में मदरसा आधुनिकीकरण योजना को शीघ्र लागू किया जाये, मध्यप्रदेश में विद्यालयों एवं महाविद्यालयों में उर्दू पढऩे वाले छात्रों हेतु उर्दू शिक्षकों की नियुक्ति की जाये. मध्यप्रदेश में हुये दंगों के पीडि़तों को केंद्रीय सरकार द्वारा निर्धारित मुआवजा राशि दी जाये एवं उनका व्यवस्थापन किया जाये. मुख्यमंत्री पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक स्वरोजगार योजना के अंतर्गत ऋण पाने वालों की संख्या में वृद्घि की जाये. मनरेगा के तहत प्रदेश भर में कब्रिस्तानों की बाउंड्रीवाल का निर्माण करवाया जाये, जिससे कब्रिस्तानों की सुरक्षा हो सके. भोपाल में इतवारा मस्जिद के पास से हटाये गये दुकानदारों के लिये रोजगार की वैकल्पिक व्यवस्था की जाये. भोपाल में करोंद मंडी की दुकानों के आवंटन में नवबहार सब्जी मंडी के दुकानदारों को पूर्व निर्धारित दर पर दुकानें अथवा प्लाट दिये जायें. भोपाल के इतवारा में हुये विवाद के दौरान गिरफ्तार किये गये बेकसूर लोगों पर लगाये गये झूठे प्रकरण वापस लिये जायें और भोपाल के पास स्थित ग्राम नीलबड़ के रहवासियों को मूलभूत सुविधायें तुरंत उपलब्ध कराई जायें आदि शामिल हैं.

Related Posts: