भोपाल, 15 अप्रैल. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मेजबानी में आज सीहोर जिले की जनपद पंचायत नसरुल्लागंज के ग्राम निम्नागाँव में मुख्यमंत्री कन्यादान योजना में 114 मुस्लिम जोड़ों का निकाह हुआ.

चौहान ने कहा कि सरकार सर्वधर्म समभाव से कार्य कर रही है. हमारा प्रयास है कि समाज के सभी वर्गों का कल्याण हो. राज्य सरकार अल्पसंख्यकों की प्रगति एवं चहुँमुखी विकास में कोई कसर नहीं छोड़ेगी. उन्होंने वर-वधुओं को आशीर्वाद देते हुए उनके सफल वैवाहिक जीवन की मंगल-कामनाएँ की. उन्होंने उपस्थित जन-समुदाय से कहा कि बेटे और बेटी में भेदभाव न करें, ‘बेटी नहीं बचाओगे तो बहू कहाँ से लाओगेÓ. चौहान ने राज्य शासन की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देते हुए कहा कि बेटी के जन्म से लेकर सम्पूर्ण जीवन की व्यवस्था की गयी है.

मुख्यमंत्री ने शिक्षा का महत्व प्रतिपादित करते हुए उपस्थित जन-समुदाय को अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा दिलाने के लिये प्रोत्साहित किया. उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश शासन ने एक लाख साठ हजार अल्पसंख्यकों को स्कॉलरशिप प्रदान की है. साथ ही विदेश में उच्च अध्ययन के लिये 15 लाख रुपये की छात्रवृत्ति की व्यवस्था भी की है. उन्होंने कहा कि शीघ्र ही अल्पसंख्यक बेटियों के लिये बड़े शहरों में छात्रावास बनाए जायेंगे ताकि वे उच्च शिक्षा प्राप्त कर सकें. उन्होंने निम्नागाँव में नल-जल योजना तथा रामनगर आदिवासी मोहल्ला में हेंडपम्प लगवाने की घोषणा की. प्रारंभ में मुख्यमंत्री ने स्वयं को वधुओं का ‘मामा’ बताते हुए बड़ी ही विनम्रता से अपने स्वागत से इंकार किया. उन्होंने कहा कि मेरी भांजियों का विवाह है इसलिये मैं समस्त मेहमानों का हार्दिक स्वागत एवं आत्मीय अभिनंदन करता हूँ.

कार्यक्रम में गृह मंत्री उमाशंकर गुप्ता, वन विकास निगम के अध्यक्ष गुरु प्रसाद शर्मा, सीसीबी चेयरमेन रवि मालवीय, शहर काजी भोपाल अमानउल्ला खान, काजी अशरफ खाँ, मुफ्ती उसमान गनी साहब, मुफ्ती इशॉक खान, आयोजन समिति के अध्यक्ष अखलाक भाई, जनपद अध्यक्ष श्रीमती निर्मला बारेला, सरपंच रामनिवास पटेल, रघुनाथ सिंह भाटी, लखन यादव, अन्य स्थानीय जन-प्रतिनिधि तथा बड़ी संख्या में आमजन उपस्थित थे.

Related Posts: