मुख्यमंत्री ने विशेष रेल को दिखाई हरी झण्डी

तीर्थ यात्रियों ने कहा अमन चैन और तरक्की के लिये करेंगे दुआ

भोपाल,13 सितंबर, नभासं. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन योजना में आज यहाँ उत्साह से सराबोर तीर्थ-यात्रियों की विशेष ट्रेन अजमेर शरीफ की यात्रा के लिये रवाना की. चौहान ने कहा कि भगवान महाकालेश्वर, उज्जैन तथा हुसेन टेकरी, जावरा सहित सभी धर्मों के प्रमुख तीर्थ-स्थलों का विकास तीर्थ एवं मेला प्राधिकरण के जरिये करवाया जायेगा.

चौहान ने कहा सभी धर्मों का मान-सम्मान और प्रदेश में भाईचारा उनकी प्राथमिकता है. हमारे देश में हमेशा से सर्वधर्म समभाव और सामाजिक समरसता की परम्परा रही है. इसी को ध्यान में रखते हुये राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन योजना में हर धर्म के तीर्थों की बुजुर्गों को तीर्थ-यात्रा करवाने की व्यवस्था की है. इसमें बद्रीनाथ, केदारनाथ, रामेश्वरम, द्वारका, अमृतसर, श्रवण वेलगोला, वेलांगणी चर्च सहित सत्रह तीर्थ की यात्रा प्रदेश के बुजुर्गों को करवायी जायेगी. राज्य सरकार ने समाज के हर वर्ग के कल्याण के लिये योजनाएँ बनायी हैं. अब गरीब बुजुर्गों के लिये मध्यान्ह भोजन की योजना तथा दो रूपये किलो में अनाज उपलब्ध करवाने की योजना भी बनायी जा रही है. धार्मिक न्यास और धर्मस्व मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा ने इस मौके पर कहा कि अजमेर शरीफ की यात्रा पर आज भोपाल, होशंगाबाद और उज्जैन संभाग के बुजुर्ग जा रहे हैं. राज्य सरकार ने इस तरह की 20 और यात्राओं की व्यवस्था की है. उन्होंने कहा कि इंदौर से भी अजमेर शरीफ के लिये तीर्थ-यात्रा जायेगी. प्रदेश में आम जनता के लिये योजनाएँ उन्हीं से संवाद कर बनायी जा रही है. उन्होंने तीर्थ यात्रा पर जा रहे सभी तीर्थ-यात्रियों को शुभकामनाएँ दीं.

पूर्व केन्द्रीय मंत्री आरिफ बेग ने कहा कि मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन योजना के तहत यह यात्रा पूरे देश के लिये एक मिसाल है. उन्होंने योजना के लिये मुख्यमंत्री को मुबारकबाद दी. रामेश्वरम के बाद अब दूसरे चरण में अजमेर शरीफ यात्रा भेजी जा रही है. पूर्व मुख्यमंत्री एवं सांसद कैलाश जोशी ने कहा कि प्रदेश सरकार सभी वर्गों के हितों के लिये काम कर रही है. आम जनता की सुख-शांति और कल्याण की चिंता करना भी सरकार का दायित्व है. चौहान ने हरी झण्डी दिखाकर विशेष रेल को रवाना करने से पहले रेल के हर डिब्बे में जाकर तीर्थ-यात्रियों को शुभकामनाएँं दी. कार्यक्रम में रायसेन की दरगाह से लायी गयी चादर अजमेर शरीफ भेजने के लिये मुख्यमंत्री को भेंट की गयी. मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में उपस्थित धर्म-गुरूओं का सम्मान किया.

अजमेर शरीफ गई विशेष चादर
मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन योजना के अंतर्गत आज हबीबगंज रेलवे स्टेशन पर यात्रियों का उत्साह तब बढ़ गया जब अजमेर शरीफ जाने वाली ट्रेन को विदाई देने के पहले रायसेन से विशेष चादर भेजने की घोषणा हुई. मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान को ख्वाजा साहब की दरगाह पर चादर चढ़ाने के लिए रायसेन की जनता की ओर से रायसेन के समाजसेवी अब्दुल कादिर हाजी मियाँ ने चादर सौंपी.

उल्लेखनीय है कि रायसेन के बाबा फतहउल्लाह की दरगाह पर भी राजधानी और अन्य स्थान से लाखों श्रद्धालु चादर चढ़ाते हैं. बाबा फतहउल्लाह अजमेर के ख्वाजा साहब के रिश्ते में भाँजे माने जाते हैं. आज रायसेन के नागरिकों की ओर से अजमेर के लिए चादर सौंपने के वक्त हर्ष और उल्लास का माहौल बन गया.

अमन चैन-तरक्की के लिये करेंगे दुआ
बाग उमराव दूल्हा भोपाल के मोहम्मद युनुस खान ने कहा कि सबसे पहले दरगाह शरीफ पर प्रदेश के अमन चैन और तरक्की की दुआ करूंगा. बहुत दिन से सोच रहा था कि अजमेर शरीफ जाऊंगा. नहीं जा पाया था. अब मौका मिला है तो जिसने हमें अजमेर शरीफ भेजा उसके लिये दुआ करूंगा. उनका कहना था कि गरीब आदमी बैठे-बैठे दरगाह शरीफ चला जाये, इससे बड़ी और क्या होगी? मोहम्मद सईद खाँ-64 ने मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन योजना की तारीफ करते हुए कहा कि ये योजना एक नेकदिल इंसान ने बनायी है. पहले किसी ने नहीं सोचा था कि ऐसी भी कोई योजना हो सकती है.  सभी बुजुर्ग लोग इसका फायदा ले सकते हैं. बैतूल जिले के दामलीपुरा के युसुफ खान का कहना था कि प्रदेश पिछले कुछ सालों में अमनो-अमान के साथ तरक्की कर रहा है. बहुत काम हो रहे हैं जिनमें तीरथ करवाने वाली यह नायाब स्कीम भी अब जुड़ गई है.

Related Posts: