डॉ. अब्दुल रशीद पटेल, मौलाना महमूद अहमद कादरी, डॉ. रजिया हामिद का सम्मान

भोपाल, 29 मार्च. मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश पूरे देश में साम्प्रदायिक सदभाव की मिसाल बनेगा. उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यक वर्ग के युवाओं के लिये रोजगार एवं आधुनिक शिक्षा के लिये हर संभव प्रयास किये जायेंगे. आवश्यकता पडऩे पर मुख्यमंत्री अल्पसंख्यक स्वरोजगार योजना की अनुदान राशि भी बढ़ायी जायेगी.

मुख्यमंत्री श्री चौहान आज यहाँ स्थानीय रविन्द्र भवन में अल्पसंख्यक सेवा राज्य पुरस्कार वितरण समारोह को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने शहीद अशफ़ाक उल्लाह खां पुरस्कार से बड़वानी के डॉ. अब्दुल रशीद पटेल, शहीद हमीद खां पुरस्कार से जबलपुर के मौलाना मोहम्मद महमूद अहमद कादरी और मौलाना अबुल कलाम आजाद पुरस्कार से भोपाल की डॉ. रजिया हामिद को पुरस्कृत किया. अल्पसंख्यक कल्याण के क्षेत्र में उत्कृष्ट समाज सेवा के लिये पुरस्कार शुरू करने वाला मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य है. पुरस्कार में एक लाख रूपये की राशि और प्रशस्ति पत्र प्रदान किया जाता है.

मध्यप्रदेश से राज्य सभा की सदस्य श्रीमती नजमा हेपतुल्ला ने कहा कि प्रदेश में अल्प संख्यक समुदाय के लिये सराहनीय कार्य हो रहा है. संसद सदस्य एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री श्री शहनवाज हुसैन ने अपने भाषण में कहा कि मध्यप्रदेश में विकास के जो अनोखे प्रयास और पहल हो रही है वह अन्य राज्यों के लिए एक मिसाल है. सांसद श्री प्रभात झा ने कहा कि मध्यप्रदेश श्री चौहान के नेतृत्व में सर्वधर्म समभाव का प्रतीक बनकर उभरा है.

अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री अजय विश्नोई ने कहा कि अल्पसंख्यक कल्याण के लिए मध्यप्रदेश में किये गये कार्यों की सराहना राष्ट्रीय स्तर पर हुई है. प्रदेश में अल्प संख्यक वर्ग के छात्रों की छात्रवृत्ति योजना में एक लाख 65 हजार विद्यार्थियों को लाभांवित किया गया है. अल्प संख्यक वर्ग के युवाओं के लिए रोजगारोन्मुखी प्रशिक्षण देने की योजना शुरू की गई है. इसी तरह मुख्यमंत्री अल्प संख्यक वर्ग स्वरोजगार योजना भी शुरू की गई है. इसमें स्वरोजगार के लिए 10 लाख रूपये तक की सहायता दी जाती है.

स्वागत भाषण आयुक्त पिछड़ा वर्ग एवं अल्प संख्यक कल्याण श्री रघुवीर श्रीवास्तव ने किया. कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्मारिका का विमोचन किया. उर्दू अकादमी द्वारा प्रकाशित पुस्तकों का भी विमोचन किया गया. मुख्यमंत्री ने हज यात्रियों के लिए विशेष मार्ग दर्शन एवं इंतजाम करने के लिये इंदौर के शहर काजी श्री इसरत अली, भोपाल के शहर काजी सैयद काजी मुश्ताक अली को सम्मानित किया. उन्होंने इस अवसर पर मंच से हाजियों को आबे जमजम भी वितरित किया.

Related Posts: